डायरेक्टर होने के बावजूद BR Chopra ने नहीं किया था महाभारत का निर्देशन, इंटरव्यू में उस शख्स का बताया था नाम

By: Neha Gupta
| Published: 23 Apr 2020, 06:15 PM IST
डायरेक्टर होने के बावजूद BR Chopra ने नहीं किया था महाभारत का निर्देशन, इंटरव्यू में उस शख्स का बताया था नाम

  • रीटेलिकास्ट के बाद महाभारत (Mahabharat) तोड़ रहा टीआरपी के सारे रिकॉर्ड
  • बी.आर.चोपड़ा (BR Chopra) ने नहीं किया था महाभारत का निर्देशन
  • इंटरव्यू में खुद किया था इसका खुलासा

नई दिल्ली | लॉकडाउन के बीच पुराने टीवी सीरियल्स जब फिर से रीटेलिकास्ट किए गए तो लोगों का क्रेज देखने वाला था। माइथोलॉजिकल शोज रामायण और बी.आर.चोपड़ा (BR Chopra) की महाभारत ने तो दर्शकों को इस कदर बांधा कि टीआरपी के पुराने कई सालों के रिकॉर्ड टूट गए। लोगों में आज भी इन शोज को लेकर एक अलग सा ही दीवानापन देखने को मिल रहा है। पहले की ही तरह घर के सभी सदस्य एक साथ बैठकर महाभारत (Mahabharat) को देख रहे हैं। दूरदर्शन पर इन शोज की वापसी के साथ ही उनके कलाकारों, शूटिंग से जुड़ी कई बातें आए दिन सामने आती रहती हैं। हाल ही में ऐसी ही एक और बात सामने आई कि बी.आर.चोपड़ा की कहलाने वाली महाभारत दरअसल उनके द्वारा निर्देशित नहीं की गई थी।

बी.आर.चोपड़ा कितने कमाल के निर्देशक थे इसमें कोई शक नहीं है लेकिन महाभारत को डायरेक्ट करने का काम उनके बेटे रवि चोपड़ा ने किया था। ये बात बी.आर.चोपड़ा ने खुद अपने एक इंटरव्यू में बताई थी कि उनका और बेटे का निर्देशन लगभग एक जैसा ही था। कोई शायद ही इस बात का अंदाजा लगा पाता था कि दोनों के निर्देशन में क्या फर्क है। इसीलिए उनके बेटे ने अपनी स्किल्स का इस्तेमाल करते हुए महाभारत को शूट किया था।

महाभारत में डायरेक्टर के तौर पर हमेशा बी.आर.चोपड़ा का नाम आता है जबकि रवि चोपड़ा को-डायरेक्टर के तौर पर काम कर रहे थे। हालांकि उन्होंने महाभारत को बनाने की पूरी जिम्मेदारी ले रखी थी। बी.आर.चोपड़ा ने एक बार इंटरव्यू में कहा था कि मेरा नाम निर्देशक के तौर पर भले ही आता है लेकिन महाभारत के डायरेक्शन का बेटे रवि ने किया है। रवि घंटो कई चीज़ों पर बात किया करते थे। मासूम रजा जो सीरियल के राइटर थे उन्हीं ने पहले नरेशन का आइडिया था, उनके साथ रवि कई बारीकियों पर बात करते थे। यहां तक कि कृष्णा के रोल के लिए नितिश भारद्वाज को भी रवि चोपड़ा ने ही सिलेक्ट किया था क्योंकि उन्हें भरोसा था उनकी स्माइल में कमाल करेगी।