राष्ट्रीय जनजाति महोत्सव में छाए मेवाड़ के गेर और गवरी नृत्य

राष्ट्रीय जनजाति महोत्सव में छाए मेवाड़ के गेर और गवरी नृत्य
national tribal festival

महोत्सव में मेवाड़ी रंग छाया रहा।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मंगलवार को इंदिरा गांधी इनडोर स्टेडियम में राष्ट्रीय जनजातीय कार्निवाल 2016 का उद्घाटन किया। उन्होंने कहा कि आदिवासियों की जमीन छीनने का किसी को अधिकार नहीं है। उन्होंने कहा कि आदिवासी भाई-बहनों से हमें सीखना चाहिए कि कैसे अभाव में भी जिंदगी जी जाती है। मोदी ने इस दौरान ढोल भी बजाई। 

कार्निवाल में राजस्थान के करीब एक हजार प्रतिनिधियों का दल भी शामिल हुआ। पार्षद भैरूलाल ने बताया कि महोत्सव में मेवाड़ी रंग छाया रहा। कलाकारों ने अपनी बेहतरीन नृत्य की प्रस्तुतियां दी। उदयपुर से गए 128 कलाकारों के दल ने अलग-अलग समय में गवरी और गेर नृत्य किया, जिसको सभी ने सराहा और यह समारोह का मुख्य आकर्षण रहा। 


ये है मेवाड़ की एवरग्रीन फिल्म 'गवरी', कास्टिंग, मेकअप, ड्रेस से लेकर एक्टिंग तक है दिल जीतने वाली


कलाकारों ने राष्ट्रीय मंच पर जनजाति संस्कृति की मनोहारी छटा बिखेरी। उदयपुर के गिर्वा क्षेत्र के भील कलाकारों ने गवरी नृत्य किया तो जनजाति हस्तशिल्पी व चित्रकारों ने अपने उत्पादों की स्टॉल लगाकर मेवाड़ी संस्कृति से मेहमानों को रू-ब-रू भी कराया। 



Show More

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned