script ये हैं उज्जैन के बवंडर...दुनियावाले इसी नाम से जानते हैं इन्हें... | Himanshu Sharma of Ujjain in the field of comedey | Patrika News

ये हैं उज्जैन के बवंडर...दुनियावाले इसी नाम से जानते हैं इन्हें...

locationउज्जैनPublished: Jan 12, 2018 05:35:17 pm

Submitted by:

Lalit Saxena

युवा बवंडर हास्य की दुनिया का सुपरस्टार, 27 साल की उम्र में किए 250 से ज्यादा अभा कवि सम्मेलन, कई टीवी शो में मचाई धूम

patrika
comedy,poet,ujjain news,Actress Sushmita Sen,All India Poet Conference,

उज्जैन. हास्य और व्यंग्य के क्षेत्र में उज्जैन ने देश को बड़े-बड़े प्रख्यात कवि और रचनाकार दिए। जिन्होंने सांस्कृतिक क्षेत्र में उज्जैन का नाम दुनियाभर में रोशन किया। शहर की इस परंपरा को युवा और नए कलाकार भी आगे बढ़ाने में पीछे नहीं हैं। एेसे ही एक किरदार हैं सुभाषनगर निवासी हिमांशु शर्मा (बवंडर)। २७ साल की उम्र में हिमांशु छोटे पर्दे पर कई शो की शान बन चुके हैं। इसी के साथ २५० से ज्यादा अखिल भारतीय कवि सम्मेलनों में अपनी प्रतिभा का लोहा मनवा चुके हैं। हिमांशु प्रख्यात कवि हरिओम पंवार, शैलेष लोढ़ा, कुमार विश्वास और अभिनेत्री सुष्मिता सेन आदि के साथ मंच साझा कर चुके हैं। साथ ही लगातार मंच से प्रस्तुति दे रहे हैं।

कॉमेडी सुपरस्टार से हास्य के मुखिया तक
छोटी पर्दे पर हिमांशु ने सब टीवी पर कॉमेडी सुपरस्टार से शुरुआत की। इस शो में प्रदेश से एकमात्र कलाकार चयनित हुए। शेखर सुमन, सोनू सूद, सुष्मिता सेन ने निर्णायक के रूप में उनकी कला को काफी सराहा। वह टॉप ५ में रहे। इसके बाद दूरदर्शन पर हंसाने का मुखिया कार्यक्रम आया। इसमें हिमांशु फस्र्ट रनरअप रहे। इसी के साथ वेब सीरीज लिव टू लाफ आ चुकी है। इसमें भोला पुरुष का किरदार काफी सराहा गया।

म्यूजिकल फेस्टिवल १४ को, उभरते सिंगर होंगे सम्मानित
उज्जैन. सिंगर्स क्लब इंडिया का ग्रेंड म्यूजिकल फेस्टिवल १४ जनवरी शाम ७ बजे विक्रम कीर्ति मंदिर ऑडिटोरियम में होगा, जिसमें उभरते गायकों को सम्मानित किया जाएगा। शौकिया सिंगिंग करने वालों के इस क्लब के संस्थापक इंजीनियर मुकेश शिंदे व धीरज गोमे के अनुसार फेस्टिवल एक गीत-संगीत और अवॉर्ड सेरेमनी से सजा शो होगा, जिसका फेसबुक पर लाइव भी होगा। अवॉर्ड देने के लिए मौजूदा दर्शकों में से ही लक्की ड्रॉ निकलेगा। वे ही अतिथि होंगे और सिंगर को पुरस्कृत करेंगे। नई आवास को मंच दिलाने एक खास अवॉर्ड मग्स टू माइक भी रखा है। इसके लिए शौकिया गायकों के घर जाकर उनका ऑडिशन लिया गया है। क्लब में १०२ परिवार जुड़े हुए हैं, जिसमें इंजीनियर, डॉक्टर, शिक्षक, बिजनेसमैन, जर्नलिस्ट व अन्य शामिल हैं। क्लब सरकार के आनंद विभाग से पंजीकृत है।

ट्रेंडिंग वीडियो