बीचएयू में हिंदी में शुरू होगी इंजीनियरिंग की पढ़ाई

  • आइआइटी में बीटेक कोर्स की हिंदी किताबों पर काम शुरू

पत्रिका न्यूज नेटवर्क

वाराणसी. इंजीनियरिंग की पढ़ाई अब देश में हिंदी में भी होगी। इसकी शुरुआत आईआईटी बीएचयू से की जाएगी। शिक्षा मंत्रालय की ओर से इसको हरी झंडी मिल गयी है। इस बाबत मंत्रालय की ओर से एक बयान भी जारी किया गया है। जिसमें जानकारी दी गई है कि आईआईटी बीएचयू में अगले सत्र से हिंदी में इंजीनियरिंग की पढ़ाई के लिये तैयारियां तेज कर दी गई हैं। पीएम मोदी के काशी आगमन पर इसकी घोषणा की भी उम्मीद जतायी जा रही है, हालांकि अभी इसकी पुष्टि नहीं की गई है।


हिंदी में इंजीनियरिंग की पढ़ाई के लिये आईआईटी बीएचयू में एक से दो सप्ताह के अंदर ही बैठक कर फैसले को अमल में लाने को लेकर चर्चा की जाएगी। सूत्रों की मानें तो अध्यापकों को पठन-पाठन के लिये हिंदी अध्ययन पर पकड़ मजबूत करने को भी कह दिया गया है। चर्चा यह भी है कि बीएचयू में इसके लिये हिंदी किताबों पर काम भी शुरू कर दिया गया है। हालांकि अभी आईआईटी बीएचयू के बड़े जिम्मेदार इस पर कुछ नहीं बोल रहे हैं, लेकिन कहा जा रहा है कि बीते 29 अक्टूकर को दिल्ली में शिक्षा मंत्री रमेश पोखलियाल निशंक के साथ उच्चस्तरीय बैठक भी हो चुकी है। कुल मिलाकर सबकुछ ठीक रहा तो इस सत्र से बीएचयू में हिंदी में इंजीनियरिंग की पढ़ाई शुरू हो सकती है।

रफतउद्दीन फरीद
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned