कुर्ते के आगे पीछे अपनी शिकायतें लिखकर अधिकारियों के पास पहुंचा किसान, कहा न्याय के लिए कहां जाएं

वाराणसी क्षेत्र के राजातालाब तहसील पर जनसुनवाई के दौरान एक किसान ने अनोखे अंदाज में अपनी मांग पूरी करने को लेकर विरोध किया।

By: Karishma Lalwani

Published: 03 Mar 2021, 11:56 AM IST

वाराणसी. वाराणसी क्षेत्र के राजातालाब तहसील पर जनसुनवाई के दौरान एक किसान ने अनोखे अंदाज में अपनी मांग पूरी करने को लेकर विरोध किया। कपसेठी के रहने वाले किसान अशोक दुबे का कहना है कि लगातार शिकायत के बाद भी सुनवाई नहीं हुई और लेखपाल ने मनमाने तरीके से रिपोर्ट लगा दिया। अशोक दुबे का कहना है कि जनसुनवाई के दौरान 10 बार प्रार्थना पत्र पर दिया लेकिन सुनवाई नहीं हुई तो अधिकारियों का ध्यान खींचने के लिए ये कदम उठाना पड़ा।

लेखपाल पर रिश्वत मांगने का आरोप

किसान अशोक दुबे ने लेखपाल पर रिश्वत मांगने का आरोप लगाया है। किसान का कहना है कि भदोही फोरलेन निर्माण में किसानों को मुआवजा नहीं मिल रहा है। जमीन अधिग्रहण की प्रक्रिया जारी है। किसान का आरोप है कि लेखपाल ने मनमाने ढंग से रिपोर्ट लगा दिया था जब उच्च न्यायालय से जांच हुआ तो सही रिपोर्ट लगाने के बाद भी लेखपाल नहीं सुन रहे और रिश्वत मांग रहा है।

मुख्यमंत्री तक पहुंची शिकायत

इस मामले की शिकायत मुख्यमंत्री तक की जा चुकी है। लेकिन न्याय न मिलने से हताश किसान का कहना है कि आखिर न्याय के लिए कहां जाएं। उधर, जनसुनवाई के दौरान तहसील पहुंचे कुछ फरियादियों ने आरोप लगाया कि यहां के कर्मचारी मनमाने ढंग से तालाब का पट्टा कर दिया है। न कोई विज्ञापन हुआ और न ही कोई प्रक्रिया की गई और तालाब का पट्टा कर दिया गया।

ये भी पढ़ें: कोरोना काल में स्कूल खुलने के पहले ही दिन बगैर मास्क के क्लास रूम में दिखाई दिए बच्चे, टीचरों ने पढ़ाना नहीं समझा मुनासिब

ये भी पढ़ें: बीएचयू में धरने पर बैठी महिला प्रोफेसर का आरोप, दलित होने की वजह से हो रहा उत्पीड़न, क्लास लेने से रोकते हैं अन्य शिक्षक

Karishma Lalwani
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned