scriptFlood like Condition in Many Districts of UP Water Level High in Ganga | UP Weather Updates: लगातार बारिश से बाढ़ जैसे हालात, दशाश्वमेध घाट में पानी भरने से गंगा में हुई आरती | Patrika News

UP Weather Updates: लगातार बारिश से बाढ़ जैसे हालात, दशाश्वमेध घाट में पानी भरने से गंगा में हुई आरती

Flood like Condition in Many Districts of UP Water Level High in Ganga- पहाड़ों पर लगातार हो रही बारिश की वजह से यूपी के अधिकतम 10 जिलों में बाढ़ जैसे हालात हो गए हैं। गंगा नदी इन दिनों उफान पर है जिसकी वजह से पानी घाट की सीढ़ियों तक बढ़ कर आ गया है।

वाराणसी

Updated: August 04, 2021 02:06:17 pm

वाराणसी. Flood like Condition in Many Districts of UP Water Level High in Ganga. पहाड़ों पर लगातार हो रही बारिश की वजह से यूपी के अधिकतम 10 जिलों में बाढ़ जैसे हालात हो गए हैं। गंगा नदी इन दिनों उफान पर है जिसकी वजह से पानी घाट की सीढ़ियों तक बढ़ कर आ गया है। लोग सुरक्षित पलायन करने को मजबूर हैं। नजदीकी इलाकों में पानी भरने का डर बना हुआ है। जलस्तर बढ़ने से गंगा-यमुना किनारे बसे गांवों में अलर्ट जारी किया गया है। प्रशासन ने नदी किनारे बसे जिलों के लिए अलर्ट जारी किया है। उधर, जलस्तर से खराब हो रहे हालात के बीच मौसम विभाग ने एक बार फिर मूसलाधार बारिश का अनुमान जताया है। मौसम विभाग के अनुसार शुक्रवार छह अगस्त तक प्रदेश के अलग-अलग हिस्सों में बदली-बारिश का सिलसिला जारी रह सकता है। सबसे ज्यादा बारिश पश्चिमी यूपी के जिलों में होगी।
Varanasi Ghat
Varanasi Ghat
खतरे के निशान पर गंगा

वाराणसी में गंगा का जलस्तर बढ़ने से हालात खराब होते जा रहे हैं। हालात ये हो गए हैं कि घाटों की सीढ़िया डूबने लगी हैं। शवों के दाह संस्कार के लिए जगह नहीं बची है। गंगा का जलस्तर बढ़ने की वजह से आस पास के 206 गांव में अलर्ट जारी किया गया है। दशश्वमेघ घाट में भी पानी भर गया है। जिसकी वजह से गंगा आरती भी बाढ़ के बीच ही हुई। गंगा के जलस्तर में मिर्जापुर, बलिया, चंदौली, गाजीपुर. प्रयागराज, बलिया और भदोही तक बढ़ोतरी दर्ज की गई है। गाजीपुर और बलिया में गंगा का जलस्तर खतरे के निशान के पास पहुंच गई हैं। कई जिलों में आवाजाही भी बाधित है।
लगातार बारिश से बाढ़ का खतरा

लगातार हो रही बारिश से बाढ़ का खतरा बना हुआ है। झांसी में नदियों के जलस्तर में लगातार पानी का स्तर बढ़ रहा है जिस वजह से बाढ़ जैसे हालात बन गए हैं। लगातार हो रही बारिश के कारण कई बांधों का जलस्तर काफी बढ़ गया है। 7 बाधों में 5 लाख 4 हजार 300 क्यूसेक पानी बेतवा, पहुज और धसान नदी में छोड़ा गया। डोंगरी बांध का जलस्तर बढ़कर 273 मीटर के करीब पहुंच गया है जिसकी वजह से इसका पानी पहुंज में छोड़ा जाएगा।
24 घंटों में इन जिलों के लिए बारिश का अलर्ट

प्रदेश में 24 घंटों के दौरान पश्चिमी यूपी में कुछ स्थानों और पूर्वी यूपी में छिटपुट तौर पर बारिश हुई या गरज चमक के साथ बौछारें पड़ीं। इस अवधि में प्रदेश में सबसे अधिक 21 सेंटीमीटर बारिश ललितपुर के तालबेहट और ललितपुर मुख्यालय पर 12 सेंटीमीटर बारिश रिकॉर्ड की गई। इसके अलावा गोरखपुर के चंद्रदीप घाट में पांच, झांसी में चार, सिद्धार्थनगर और देवरिया में 3-3 सेंटीमीटर बारिश दर्ज की गई।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

कोरोना: शनिवार रात्री से शुरू हुआ 30 घंटे का जन अनुशासन कफ्र्यूशाहरुख खान को अपना बेटा मानने वाले दिलीप कुमार की 6800 करोड़ की संपत्ति पर अब इस शख्स का हैं अधिकारजब 57 की उम्र में सनी देओल ने मचाई सनसनी, 38 साल छोटी एक्ट्रेस के साथ किए थे बोल्ड सीनMaruti Alto हुई टॉप 5 की लिस्ट से बाहर! इस कार पर देश ने दिखाया भरोसा, कम कीमत में देती है 32Km का माइलेज़UP School News: छुट्टियाँ खत्म यूपी में 17 जनवरी से खुलेंगे स्कूल! मैनेजमेंट बच्चों को स्कूल आने के लिए नहीं कर सकता बाध्यअब वायरल फ्लू का रूप लेने लगा कोरोना, रिकवरी के दिन भी घटेCM गहलोत ने लापरवाही करने वालों को चेताया, ओमिक्रॉन को हल्के में नहीं लें2022 का पहला ग्रहण 4 राशि वालों की जिंदगी में लाएगा बड़े बदलाव

बड़ी खबरें

Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.