पूर्वांचल में पक्षियों की मौत बनी संदेह, आसमान से अचानक मर कर गिरने लगे कौवों की मौत से स्वास्थ्य महकमा अलर्ट, बर्ड फ्लू का भय

- पूर्वांचल में कौवों की मौत से हड़कंप

- अचानक एक-एक कर कौवों की मौत से लोगों में भय

- इस तरह की घटना से स्वास्थ्य विभाग अलर्ट

By: Karishma Lalwani

Published: 09 Jan 2021, 03:36 PM IST

वाराणसी. वाराणसी के पिंडरा बाजार में अचानक आधा दर्जन मृत कौवों की सूचना से हड़कंप मच गया। लोगों के मन मे बर्ड फ्लू (Bird Flu) की आशंका को लेकर डर है। हालांकि, कौवों की मौत कैसे हुई, यह रहस्य बना हुआ है। लेकिन इस तरह की घटना से प्रशासनिक महकमा अलर्ट हो गया है। लोगों ने भी मृत कौवों को गड्ढे में डालने के बाद साबुन को हाथ से धुलने के बाद ही सेनेटाइज किया। ग्रामीणों ने मौत की सूचना वन विभाग को दी। लेकिन जब देर शाम तक वन विभाग की ओर से जांच के लिए कोई नहीं पहुंंचा तो ग्रामीणों ने कौवों को दफनाना शुरू कर दिया। उधर, सूचना मिलते ही पशु चिकित्साधिकारियों की टीम मौत के कारणों का पता लगाने के लिए जांच के लिए पहुंच गई।

पूर्वांचल में पक्षियों की मौत बनी संदेह, अचानक हुई कौवों की मौत से स्वास्थ्य महकमा अलर्ट, बर्ड फ्लू का भय

उत्तर प्रदेश में बर्ड फ्लू को लेकर अलर्ट जारी किया गया है। हालांकि, प्रदेश में अब तक बर्ड फ्लू का एक भी केस सामने नहीं आया है लेकिन एहतियात बरतना शुरू हो गया है। पूर्वांचल में पहले सोनभद्र और फिर पिंडरा में कौवों की मौत के बाद लोगों में बर्ड फ्लू को लेकर डर बढ़ गया है। बता दें कि सोनभद्र में मृत मिले कौवों की पोस्टमार्टम रिपोर्ट में बर्ड फ्लू नहीं मिला। वहीं, शुक्रवार को पिंडरा में बस स्टॉप के पास जब कुछ लोग खड़े थे तभी एक कौवा आकर गिरा। बाजार के लोग उसे बचाने की कोशिश में लगे ही थे कि तभी बाजार से 100 मीटर दूर स्थित एक बगीचे में जगह- जगह आधा दर्जन कौवे मृत हाल में मिले।

ये भी पढ़ें: Bird Flu: यूपी के सभी चिडियाघरों और बर्ड सेंन्चुअरी में अलर्ट, राज्य सरकार का बड़ा आदेश, एक भी मामला सामने आने पर पक्षियों को मारने का ऑर्डर

ये भी पढ़ें: यूपी में जल संसाधनों का सुरक्षित उपयोग के लिए जल नीति शीघ्र

Karishma Lalwani
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned