राजा भइया से अखिलेश यादव ने बनाई दूरी तो डिप्टी CM केशव मौर्य ने कहा वो मेरे मित्र हैं

Rafatuddin Faridi

Publish: Mar, 31 2018 07:05:00 PM (IST)

Varanasi, Uttar Pradesh, India

सियासत का केन्द्र बने राजा भइया

1/4

बाहुबली राजा भइया को डिप्टी सीएम केशव मौर्य ने बताया मित्र और पड़ोसी।

कौशाम्बी. राज्यसभा चुनाव के बाद बाहुबली राजा भइया पक्ष और विपक्ष की राजनीति का केन्द्र बने हुए हैं। कभी अखिलेश यादव के करीबी कहे जाने वाले राजा भइया अब अचानक बीजेपी के खास नजर आने लगे हैं। वह खुद भले ही यह बात न कह रहे हों, पर बीजेपी के लोग यह दावा करने में पीछे नहीं हट रहे हैं। इस कड़ी में डिप्टी सीएम केशव मौर्य ने भी उन्हें पड़ोसी बताया है। डिप्टी सीएम एक दिन पहले ही आजमगढ़ में थे और यहां उन्होंने जमकर सपा और बसपा गठबंधन पर निशाना साधा।


केशव प्रसाद मौर्य कौशाम्बी जिले के रहने वाले हैं, जो राजा भइया के जिले प्रतापगढ़ पड़ोसी जनपद है। इसी को जोड़कर अब केशव मौर्य राजा भइया को अपना मित्र बता रहे हैं। हालांकि यह मित्रता अभी-अभी हुए राज्यसभा चुनाव में बीजेपी के नवें प्रत्याशी की जीत के बाद बनी समझ में आ रही है। इस चुनाव में सपा ने बसपा के उम्मीदवार भीमराव अंबेडकर को अपने वोट ट्रांसफर किये थे, बावजूद इसके बीजेपी जीत गयी। इस जीत के तुरंत बाद ही मायावती ने प्रेस कांफ्रेंस कर राजा भइया के खिलाफ बयान दिया था। इसके तुरंत बाद ही अखिलेश यादव ने राजा भइया को शुक्रया वाला टि्वट डिलीट कर दिया था।


इन सब प्रकरणों के बाद अब अखिलेश यादव भी बसपा से गठबंधन की खातिर राजा भइया से दूरी बनाते दिख रहे हैं। यह मौका बीजेपी के लिये मुफीद है। यह भी बता दें कि राजा भइया योगी सरकार बनने के बाद पहले भी मुख्यमंत्री के साथ एक ही मंच पर नजर आ चुके हैं। इसके अलावा राज्यसभा चुनाव में वोट डालने के तुरंत बाद ही वह सीएम योगी से जाकर मिले थे और उनका आशीर्वाद लिया था। इससे अंदाजा लगाया जाने लगा कि उन्होंने बीजेपी को वोट दिया होगा। अब बीजेपी के नेताओं में राजा भइया को अपने पाले में बताने का सिलसिया शुरू हो गया है। दरअसल बीजेपी को यह मालूम है कि राजा भइया की प्रतापगढ़ में अच्छी खासी पकड़ है। इसके अलावा वह क्षत्रियों में भी काफी पॉपुलर हैं। यदि बीजेपी को उनका साथ मिल जाता है तो 2019 के लोकसभा चुनाव में इसका फायदा उठाया जा सकता है। अब तक निर्दलीय विधायक बनने वाले राजा भइया की नजदीकी सपा के साथ थी।

डाउनलोड करें पत्रिका मोबाइल Android App: https://goo.gl/jVBuzO | iOS App : https://goo.gl/Fh6jyB

Ad Block is Banned