पुलिसकर्मियों को मिला प्रदेश में अपने तरह पहला हाइजेनिक मेस

आईजी रेंज ने फीता काट कर किया उद्घाटन, गुणवत्तापूर्ण भोजन मिलने के साथ पुलिसकर्मियों को तनाव होगा कम

By: Devesh Singh

Updated: 09 Apr 2019, 08:38 PM IST

वाराणसी. बनारस पुलिस के लिए मंगलवार का दिन बेहद खास रहा। युपी आईपीएस व कैंट सीओ डा.अनिल कुमार की पहल रंग लायी है। प्रदेश में अपने तरह का पहला हाइजेनिक मेस का आईजी रेंज विजय सिंह मीणा ने फीता काट कर उद्घाटन किया। मेस किसी बड़े होटल से कम नहीं है और यहां पर मशीनों से तैयार खाने के साथ टीवी व म्यूजिक सुनते हुए भोजन करने की व्यवस्था है।
यह भी पढ़े:-निरहुआ के रोड शो में उमड़ी भीड़ से लगा सपा को झटका, अखिलेश यादव को मिलेगी कड़ी टक्कर

पुलिस लाइन में तैयार इस मेस का लाभ सभी पुलिसकर्मियों को मिलेगा। अभी तक मेस की हालत इतनी खस्ता होती थी वहां पर हाइजेनिक खान मिलना संभव नहीं था। हाथ से ही आटा गूथने से लेकर रोटी बनाने का काम होता था। मेस की स्थिति ऐसी होती थी कि ड्यूटी से थक कर आये पुलिसकर्मी वहां बहुत विवशता में जाना चाहते थे लेकिन अब ऐसा नहीं होगा। युवा आईपीएस ने पुलिसकर्मियों को अ'छी मेस देने की योजना बनायी थी जो अब जमीन पर उतर चुकी है। मेस के अंदर जाने पर लगेगा कि आप किसी होटल में आ गये। बेहतरीर साज-स"ाा के साथ तैयार मेसे में आपको म्यूजिक बजता हुआ मिलेगा। दीवार पर लगी बड़ी एलसीईडी टीवी में मनोरंजक कार्यक्रम चलते रहेंगे। आटा गूथने से लेकर रोटी बनाने का काम मशीने करती रहेगी। पुलिसकर्मियों के मेस में जाने पर गरम व हाइजेनिक खाना तुरंत मिल जायेगा। आईजी रेंज ने बनारस पुलिस की इस पहल का सराहा है और कहा कि इतनी अ'छी व्यवस्था में खाना खाने से पुलिसकर्मियों को अपना तनाव कम करने में आसानी होगी। कैंट सीओ डा.अनिल कुमार ने बताया कि यूपी में यह अपनी तरह का पहला मेस है, जहां पर इतनी सारी सुविधा है। हम लोगों को उद्देश्य पुलिसकर्मियों को बेहतर माहौल देना है जिससे वह अधिक अ'छे ढंग से अपनी ड््यूटी निभा सके। उद्घाटन समारोह में एसएसपी आनंद कुलकर्णी, एसपी क्राइम ज्ञानेन्द्र प्रसाद, एसपीआर एमपी सिंह आदि पुलिस अधिकारी उपस्थित थे।
यह भी पढ़े:-आस्था या फिर अंधविश्वास, यहां पर खौलते खीर से करते हैं भक्त स्नान

Devesh Singh
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned