वाराणसी में रविदास मंदिर में जाएंगे अखिलेश और प्रियंका गांधी, छुपा है बड़ा राज

-संत पर सियासत
-संत रविदास की जयंती कल
-रविदास मंदिर में करेंगे दोनों नेता दर्शन-पूजन
-जेपी नड्डा भी काशी में साधु संतों से लेंगे आशीर्वाद

By: Mahendra Pratap

Published: 26 Feb 2021, 04:17 PM IST

महेंद्र प्रताप सिंह

पत्रिका न्यूज नेटवर्क

वाराणसी. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का संसदीय क्षेत्र वाराणसी संतों पर सियासत का अखाड़ा बन गया है। सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव इन दिनों पूर्वांचल के दौरे पर हैं। उन्होंने वाराणसी के संकट मोचक मंदिर में माथा टेककर साफ्ट हिंदुत्व के जरिए हिंदू वोट बैंक को सियासी संदेश देने की कोशिश की। शनिवार को संत रविदास मंदिर जाकर वह दलितों को संदेश देंगे। इसी दिन रविदास की जयंती पर कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी अनुसूचित जातियों को साधने की कोशिश करेंगी। 28 फरवरी को भाजपा अध्यक्ष जेपी नड्डा भी वाराणसी में साधु-संतों से आशीर्वाद लेकर जनता की नब्ज टटोलेगें।

भाजपा-आरएसएस वोट के लिए, हिन्दू-मुस्लिम में शादी कर लेते हैं : ओमप्रकाश राजभर

रविदास मंदिर से दलितों को साधेंगे

पूर्वांचल दौरे पर आए अखिलेश संकट मोचन मंदिर में माथा टेकने के बाद मंदिर के महंत पंडित विश्वंभर नाथ मिश्र से संकट कटे मिटे सब पीरा जपत निरंतर हनुमत बलबीरा का मंत्र लिया। अब वह शक्तिधाम मिर्जापुर में मां विंध्यवासिनी के दरबार में शीश नवाएंगे। शनिवार की सुबह सीरगोवर्धनपुर स्थित रविदास मंदिर में माथा नवाकर सपा प्रमुख कांग्रेस के दलित एजेंडे को पुख्ता करने की कोशिश करेंगे। दर्शन-पूजन के बाद वह संत निरंजनदास के दर्शन के लिए मुख्य मंच पर जाएंगे। संत रविदास मंदिर के जरिए अखिलेश प्रदेश के दलित समुदाय को साधने की कोशिश करेंगे।

याद आयीं मीरा कुमार, प्रियंका के साथ नमन करेंगी रविदास को

संत रविदास जयंती के मौके पर कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा वाराणसी में कांग्रेस की वरिष्ठ नेता मीरा कुमार के साथ संत रविदास को नमन करेंगी। वह सुबह 10 बजे बनारस पहुंचेगी और सीरगोवर्धनपुर में जयंती पर होने वाले पूजन और लंगर में शामिल होंगी। इसके अलावा राजघाट स्थित संत शिरोमणि गुरु रविदास मंदिर में पूर्व लोकसभा अध्यक्ष मीरा कुमार का दर्शन-पूजन और आरती का कार्यक्रम है। प्रियंका गांधी वाड्रा इस माह यूपी के कई महत्वपूर्ण धार्मिक शहरों का दौरा कर पूजा-अर्चना में भाग ले रही हैं। इसमें प्रयागराज में संगम स्नान और मथुरा में बांके बिहारी मंदिर में पूजा-अर्चना शामिल है। अब वाराणसी में दलित नेता के साथ रविदास को नमन करने के सियासी मायने तलाशे जा रहे हैं।

बाबा काल भैरव का दर्शन-पूजन करेंगे नड्डा

भाजपा राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा दो दिवसीय दौरे पर 28 फरवरी को बनारस पहुंच रहे हैं। राष्ट्रीय अध्यक्ष पद की कमान संभालने के बाद जेपी नड्डा का यह पहला वाराणसी दौरा है। यूं तो नड्डा रोहनिया में बने भाजपा काशी क्षेत्र के नए कार्यालय का उद्धाटन करने आ रहे हैं। लेकिन माना जा रहा है कि उनके दौरे का मुख्य मकसद महंतों और संतों के साथ सियासत के समीकरण बिछाना है। इस दौरान नड्डा बाबा श्रीकाशी विश्वनाथ और बाबा काल भैरव का दर्शन-पूजन करने के यहां के साधु, संतों और महंतों से आर्शीवाद लेंगे।

Show More
Mahendra Pratap
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned