script कल्पना ने बनाया दांतों को लेकर वर्ल्ड रिकॉर्ड, क्या आप जानते हैं दुनिया में सबसे ज्यादा दांत किसके है? | Indian Woman Sets Guinness World Record for having the most number of teeth | Patrika News

कल्पना ने बनाया दांतों को लेकर वर्ल्ड रिकॉर्ड, क्या आप जानते हैं दुनिया में सबसे ज्यादा दांत किसके है?

locationनई दिल्लीPublished: Nov 22, 2023 09:05:39 am

Submitted by:

Shaitan Prajapat

तमिलनाडु के तंजावुर में रहने वाली 26 साल की कल्पना बालन ने गिनीज वर्ल्ड रिकॉर्ड बनाया है। उनके मुंह में 32 के बजाय 38 दांत हैं।

kalpana_balan_made_world_record_with_38_teeth_ii.jpg

कुछ रिकॉर्ड उपलब्धियों और कारनामों को लेकर बनते हैं तो कुछ कुदरती बन जाते हैं। भारत की कल्पना बालन को कुदरत ने छह अतिरिक्त दांत दिए हैं। यानी उनके मुंह में 32 के बजाय 38 दांत हैं। इसके लिए उनका नाम गिनीज बुक ऑफ वर्ल्ड रिकॉर्ड में दर्ज किया गया है। वह इतने दांतों वाली दुनिया की एकमात्र महिला हैं। पुरुष वर्ग में यह रिकॉर्ड कनाडा के इवानो मेलोन के नाम है। उनके 41 दांत हैं। गिनीज वर्ल्ड रिकॉर्ड के अनुसार, एक बच्चे की मां के चार अतिरिक्त जबड़े (निचले जबड़े) के दांत और दो अतिरिक्त मैक्सिलरी (ऊपरी जबड़े) के दांत हैं।


कभी 32 के बजाय 38 दांतों से परेशान थीं कल्पना

तमिलनाडु के तंजावुर में रहने वाली 26 साल की कल्पना बालन जब किशोरी थीं, उनके अतिरिक्त दांत बढऩे लगे थे। इसको लेकर वह और उनके माता-पिता काफी परेशान थे। उन्होंने अतिरिक्त दांत हटवाने का फैसला किया था, लेकिन डॉक्टर ने दांतों के बड़े हो जाने तक इंतजार की सलाह दी। बाद में अतिरिक्त दांत बड़े होने पर उन्होंने इन्हें नहीं हटवाने का फैसला किया। इन दांतों से उन्हें कोई दर्द या तकलीफ महसूस नहीं होती है।

जिंदगी की उपलब्धि

कल्पना के निचले जबड़े में चार और ऊपरी जबड़े में दो दांत ज्यादा हैं। उन्होंने कहा, गिनीज रिकॉर्ड का खिताब पाकर बहुत खुश हूं। यह मेरी जिंदगीभर की उपलब्धि है। डॉक्टर ने कहा है कि भविष्य में मेरे दो और अतिरिक्त दांत आ सकते हैं।

यह भी पढ़ें

नए पश्चिमी विक्षोभ से बदला मौसम : पहाड़ों पर बर्फबारी से कांपेगी दिल्ली, आज इन राज्यों में बारिश का अलर्ट



उगने के सटीक कारण अज्ञात

मेडिकल भाषा में अतिरिक्त दांतों को हाइपरडोंटिया या पॉलीडोंटिया कहा जाता है। इनके उगने का सटीक कारण अब तक अज्ञात है। माना जाता है कि नियमित दांत की कली (ऊतक का समूह) के पास पैदा होने वाली अतिरिक्त कली से ये दांत विकसित होते हैं। नियमित दांत की कली टूटने से भी ये विकसित हो सकते हैं।

यह भी पढ़ें

सुप्रीम कोर्ट दिल्ली सरकार पर सख्त, कहा- एक हफ्ते में दीजिए 415 करोड़, वर्ना...

ट्रेंडिंग वीडियो