scriptJaishankar Calls For Zero Tolerance To Cross-Border Terrorism At BRICS | BRICS Summit: ब्रिक्स देशों के शिखर सम्मेलन में शामिल हुए भारत के विदेश मंत्री जयशंकर ने उठाया आतंकवाद का मुद्दा | Patrika News

BRICS Summit: ब्रिक्स देशों के शिखर सम्मेलन में शामिल हुए भारत के विदेश मंत्री जयशंकर ने उठाया आतंकवाद का मुद्दा

विदेश मंत्री जयशंकर ने ब्रिक्स देशों के शिखर सम्मेलन में कहा कि ब्रिक्स को आतंकवाद, विशेष रूप से सीमा पार आतंकवाद के लिए जीरो टॉलरेंस का प्रदर्शन करना चाहिए। वर्चुअली आयोजित इस बैठक में भारतीय विदेश मंत्री ने 8 महत्वपूर्ण बिंदूओं पर अपनी बात रखी।

नई दिल्ली

Updated: May 20, 2022 07:37:01 am

विदेश मंत्री एस जयशंकर ने आज ब्रिक्स विदेश मंत्रियों की बैठक में भाग लिया। इसमें उन्होंने यह कहते हुए 8 प्रमुख बिंदुओं पर प्रकाश डाला कि हमें न केवल कोविड महामारी से सामाजिक-आर्थिक सुधार की तलाश करनी चाहिए, बल्कि लचीला और विश्वसनीय आपूर्ति श्रृंखला भी बनानी चाहिए। ब्रिक्स की इस वर्चुअल बैठक की मेजबानी चीन ने की थी। इस बैठक में विदेश मंत्री जयशंकर के अलावा, दक्षिण अफ्रीका की अंतराष्ट्रीय संबंध एवं सहयोगी मंत्री नलेदी पंडोर, ब्राजील विदेश मंत्री कार्लोस फ्रांका और रूसी विदेश मंत्री सर्गेई लावरोव भी बैठक में शामिल थे।
BRICS Summit: ब्रिक्स देशों के शिखर सम्मेलन में शामिल हुए भारतीय विदेश मंत्री जयशंकर, उठाया आतंकवाद का मुद्दा
BRICS Summit: ब्रिक्स देशों के शिखर सम्मेलन में शामिल हुए भारतीय विदेश मंत्री जयशंकर, उठाया आतंकवाद का मुद्दा
बैठक में, विदेश मंत्री जयशंकर ने 8-प्रमुख बिंदुओं पर प्रकाश डाला, उन्होंने कहा कि रूस- यूक्रेन युद्ध के प्रभाव से ऊर्जा, खाद्य और वस्तुओं की लागत में तेज वृद्धि हुई है। विकासशील देशों के लिए इसे कम किया जाना चाहिए। बैठक की अध्यक्षता चीन के स्टेट काउंसलर एवं विदेश मंत्री वांग यी ने की। आइए जानते हैं इस वर्चुअली आयोजित बैठक में भारतीय विदेश मंत्री ने किन 8 महत्वपूर्ण बिंदूओं पर अपनी बात रखी।
1. इस बैठक में एस जयशंकर ने कहा कि हमें न केवल कोरोना महामारी से सामाजिक-आर्थिक सुधार की तलाश करनी चाहिए, बल्कि लचीला और विश्वसनीय आपूर्ति श्रृंखला भी बनानी चाहिए।

2. यूक्रेन युद्ध के असर से ऊर्जा, भोजन और वस्तुओं की लागत में तेज वृद्धि हुई है। विकासशील दुनिया की खातिर इसे कम किया जाना चाहिए।
3. ब्रिक्स ने बार-बार संप्रभु समानता, क्षेत्रीय अखंडता और अंतर्राष्ट्रीय कानून के प्रति सम्मान की पुष्टि की है। हमें इन वादों पर खरा उतरना चाहिए।

4. ब्रिक्स को सर्वसम्मति से और विशेष रूप से संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद में सुधार का समर्थन करना चाहिए।

5. हमें मिलकर जलवायु कार्रवाई और जलवायु न्याय के लिए विकसित देशों द्वारा संसाधनों की विश्वसनीय प्रतिबद्धता पर जोर देना चाहिए।

6. ब्रिक्स को आतंकवाद, विशेष रूप से सीमा पार आतंकवाद के लिए जीरो टॉलरेंस प्रदर्शित करना चाहिए।
7. एक वैश्वीकृत और डिजीटल दुनिया विश्वास और पारदर्शिता को उचित सम्मान देगी।

8. सतत विकास लक्ष्यों को व्यापक तरीके से प्राप्त किया जाना चाहिए।
यह भी पढ़ें

'माता-पिता भारतीय नागरिकता भलें छोड़ दें, गर्भ में मौजूद बच्चे को नागरिकता वापस पाने का हक' - मद्रास हाईकोर्ट



इसके अलावा विदेश मंत्री जयशंकर ने उभरते बाजारों और विकासशील देशों के साथ ब्रिक्स विदेश मंत्रियों की वार्ता में भाग लिया। यहां उठाए गए 4 प्रमुख बिंदु पर बात हुई।

1. अंतर्राष्ट्रीय संगठनों को वास्तविक परिवर्तन देखना चाहिए, न कि केवल नई शब्दावली। एक पुनर्संतुलित और बहुध्रुवीय विश्व को सुधारित बहुपक्षवाद की ओर ले जाना चाहिए।

2. सभी रूपों और अभिव्यक्तियों में आतंकवाद की निंदा की जानी चाहिए। हमें वित्तपोषण सहित सभी समर्थनों पर कार्रवाई करनी चाहिए।
यह भी पढ़ें

सुप्रीम कोर्ट का UIDAI को निर्देश, सेक्स वर्कर्स को भी जारी किया जाए आधार कार्ड



3. यूक्रेन संघर्ष के बाद आई कोविड महामारी विकासशील देशों में भारी सामाजिक-आर्थिक कठिनाइयों का कारण बन रही है। हमें लचीला और विश्वसनीय आपूर्ति श्रृंखला, आर्थिक विकेंद्रीकरण की आवश्यकता है।

4. वैश्विक सुधार को खाद्य और ऊर्जा सुरक्षा को आगे बढ़ाना चाहिए और स्वास्थ्य, डिजिटल और हरित विकास को प्राथमिकता देनी चाहिए।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

Weather. राजस्थान में आज 18 जिलों में होगी बरसात, येलो अलर्ट जारीसंस्कारी बहू साबित होती हैं इन राशियों की लड़कियां, ससुराल वालों का तुरंत जीत लेती हैं दिलशुक्र ग्रह जल्द मिथुन राशि में करेगा प्रवेश, इन राशि वालों का चमकेगा करियरउदयपुर से निकले कन्हैया के हत्या आरोपी तो प्रशासन ने शहर को दी ये खुश खबरी... झूम उठी झीलों की नगरीजयपुर संभाग के तीन जिलों मे बंद रहेगा इंटरनेट, यहां हुआ शुरूज्योतिष: धन और करियर की हर समस्या को दूर कर सकते हैं रोटी के ये 4 आसान उपायछात्र बनकर कक्षा में बैठ गए कलक्टर, शिक्षक से कहा- अब आप मुझे कोई भी एक विषय पढ़ाइएUdaipur Murder: जयपुर में एक लाख से ज्यादा हिन्दू करेंगे प्रदर्शन, यह रहेगा जुलूस का रूट

बड़ी खबरें

Maharashtra Politics: शिवसेना के एक बागी विधायक का बड़ा दावा, कहा- 12 सांसद जल्द शिंदे खेमे में होंगे शामिल6 और मंत्रियों ने दिया इस्तीफा, Britain के पीएम बोरिस जॉनसन की बढ़ी मुश्किलेंनकवी के इस्तीफे के बाद स्मृति ईरानी बनीं अल्पसंख्यक कल्याण मंत्री, सिंधिया को मिला स्टील मंत्रालयVideo: 'हर घर तिरंगा' के सवाल पर बोले Farooq Abdullah, 'वो अपने घर में रखना', भड़के यूजर्सMalaysia Masters: पीवी सिंधू, साई प्रणीत और परूपल्ली कश्यप पहुंचे दूसरे दौर में, साइना नेहवाल हुई बाहरMaharashtra Politics: शिवसेना के संसदीय दल में भी बगावत? उद्धव ठाकरे ने भावना गवली को चीफ व्हिप के पद से हटायाMukhtar Abbas Naqvi ने मोदी कैबिनेट से दिया इस्तीफा, बनेंगे देश के नए उपराष्ट्रपति?काली पोस्टर विवाद में घिरीं महुआ मोइत्रा के समर्थन में आए थरूर, कहा- 'हर हिन्दू जानता है देवी के बारे में'
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.