न्यायिक अधिकारी को आया गुस्सा, पुलिसकर्मी की उतरवाई वर्दी, जानिए पूरा मामला

Amit Sharma | Updated: 26 Jul 2019, 07:11:55 PM (IST) Agra, Agra, Uttar Pradesh, India

मजिस्ट्रेट ने न्यायालय में पहुचकर चालक की वर्दी उतरवा दी। वहां मौजूद एक व्यक्ति ने इसकी सूचना कंट्रोल रूम पर दी।

आगरा। जिला कारागार से शुक्रवार दोपहर को किशोर कैदियो को लेकर मलपुरा क्षेत्र के सिरोली रोड पर स्थित किशोर न्यायलय बोर्ड जा रही वज्र वाहन के चालक को पीछे आ रही जज की गाडी को साइड न देना भारी पड गया। मजिस्ट्रेट ने न्यायालय में पहुचकर चालक की वर्दी उतरवा दी। वहां मौजूद एक व्यक्ति ने इसकी सूचना कंट्रोल रूम पर दी। सूचना मिलते ही पुलिस महकमे में हडकंप मच गया। मौके पर एस पी ग्रामीण सी ओ अछनेरा फोर्स के साथ पहुच गए।

यह भी पढ़ें- स्कूल प्रबंधक ने अभिभावक को धमकाया, ऑडियो वायरल, जानिए क्या है मामला
ये है मामला
थाना मलपुरा के गांव सिरोली में गांव के बाहर किशोर न्यायलय बोर्ड है। शुक्रवार दोपहर 12 बजे पुलिस का वज्र वाहन किशोर कैदियो को लेकर जिला कारागार से किशोर न्यायलय बोर्ड जा रहा था। तभी पीछे से होण्डा सिटी कार नंबर यू पी 32 जी पी 2525 में प्रधान मजिस्ट्रेट (जज) संतोष कुमार यादव आ रहे थे। उनके चालक ने वज्र वाहन को साइड देने के लिए हॉर्न व हुूटर बजाया। इसके बाद भी चालक ने जज की गाडी को साइड नही दी। चालक वज्र वाहन को लेकर न्यायलय पहुच गया। जज भी कोर्ट पहुच गए।

यह भी पढ़ें- Pilibhit Bareilly Highway Accident: पूर्णागिरि दर्शन कर लौट रहे एक ही परिवार के सात सदस्यों की मौत, बस से टकराई कार

कोर्ट में उतरवाई वर्दी
उन्होंने वज्र वाहन चालक को बुलाया। आरोप है कि उन्होने चालक को उनकी गाडी को साइड नही देने पर फटकार लगाई। इसके बाद जज ने चालक की वर्दी भी उतरवा दी। कोर्ट में मौजूद अन्य लोग यह नजारा देख रहे थे। यह नजारा देख रहे सतीश नाम के व्यक्ति ने अपने फोन से इसकी सूचना कंट्रोल रूम पर दी। कोर्ट में वज्र वाहन चालक की वर्दी उतरवाने की खबर से महकमे में हडकंप मच गया। सूचना पर पीआरवी 46 पहुच गई। मौके पर एस पी ग्रामीण पश्चिम रवी कुमार सी ओ अछनेरा नम्रता श्रीवास्तव फोर्स के साथ पहुच गए। उन्होने मामले की जांच की।

यह भी पढ़ें- द्वारिकाधीश महाराज ने मोती जड़ित हिंडोले में विराजमान होकर दिए भक्तों को दर्शन, देखें वीडियो

ये बोले अधिकारी
एसपी ग्रामीण रवी कुमार ने बताया है कि 100 नंबर पर सूचना मिली थी। जिस पर पीआरवी 46 मौके पर पहुची थी। सूचनकर्ता ने बताया था कि वहां पर कुछ पुलिस वालो के कपडे उतरवाए गए है। मामले की जांच की जा रही है। जांच के बाद उचित कार्रवाई की जाएगी।
इनपुट देवेश शर्मा

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned