30 रुपए किलो हुआ प्याज तो हरी सब्जियों के बिगड़े मिजाज, जानिए मंडी के दाम!

 

खराब मौसम और पेट्रोल और डीजल के महंगे होने के कारण हरी सब्जियों के दाम बढ़ गए हैं।

आगरा। महीनों से आंसू निकाल रहे प्याज के आसमान छूते दामों ने लोगों को थोड़ी राहत दी तो हरी सब्जियों के मिजाज बिगड़ गए। खराब मौसम और पेट्रोल और डीजल के महंगे होने के कारण हरी सब्जियों के दाम बढ़ गए हैं। इसके कारण आम आदमी बुरी तरह त्रस्त है। रसोई के बजट पर महंगाई की मार पड़ रही है।

यह भी पढ़ें: जनवरी के Last Sunday को नहीं होगी छुट्टी, बच्चों को जाना पड़ेगा स्कूल, जानिए वजह!

प्याज के गिरे दाम
कुछ समय पहले तक 100 रुपए किलो के रेट से बिकने वाले प्याज के भाव गिरने से लोगों को थोड़ी राहत मिली है। आगरा की सिकंदरा फल व सब्जी मंडी में प्याज थोक में 30 रुपए किलो के भाव से बिक रहा है। वहीं फुटकर में 50 रुपए से 70 रुपए किलो के बीच बिक रहा है।

खराब मौसम ने महंगी की हरी सब्जियां
वहीं बार बार मौसम का मिजाज बदलने से मंडी में सब्जियों की आवक पर असर पड़ा है। मंडी में 40 फीसदी तक सब्जियां कम आ रही हैं। इस कारण हरी सब्जियों के दाम बढ़ गए हैं। थोक में हरी सब्जियां 30 रुपए किलो व फुटकर में 40 से 50 रुपए किलो के हिसाब से बिक रही हैं।

ये हैं सब्जियों के दाम

प्याज 30 रुपए किलो थोक, 50-70 किलो फुटकर

लहसुन 60-80 रुपए किलो थोक, 100-120 किलो फुटकर

टमाटर 10-15 रुपए किलो थोक, 20 किलो फुटकर

मूली 10 रुपए किलो थोक, 20 किलो फुटकर

गाजर 10-15 रुपए किलो थोक, 20-25 किलो फुटकर

खीरा 20-30 रुपए किलो थोक, 40 किलो फुटकर

आलू 10-15 रुपए किलो थोक, 20-25 किलो फुटकर

लौकी 15-20 रुपए किलो थोक, 30 किलो फुटकर

कद्दू 15 रुपए किलो थोक, 20 किलो फुटकर

नीबू 50 रुपए किलो थोक, 60 किलो फुटकर

परवल 40 रुपए किलो थोक, 60 किलो फुटकर

पालक 30 रुपए किलो थोक, 40 किलो फुटकर

मैथी 20 रुपए किलो थोक, 30-40 किलो फुटकर

बथुआ 20 रुपए किलो थोक, 30-40 किलो फुटकर

अदरक 50-60 रुपए किलो थोक, 80 किलो फुटकर

भिंडी 30 रुपए किलो थोक, 50 किलो फुटकर

शिमला मिर्च 30 रुपए किलो थोक, 50 किलो फुटकर

हरी मिर्च 30 रुपए किलो थोक, 50 किलो फुटकर

गोभी 30 रुपए किलो थोक, 40 किलो फुटकर

suchita mishra
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned