96 लाख के पोल किए ‘गोल’, 14 अफसर जांच के घेरे में

अजमेर डिस्कॉम ने जारी की चार्जशीट- लाडनूं सब डिवीजन के 3831 खम्भो का मामला

Baljeet Singh

26 Mar 2020, 02:19 AM IST


भूपेन्द्र सिंह . अजमेर. अजमेर विद्युत वितरण निगम के तहत आने वाले नागौर जिले के लाडनूं (ग्रामीण) सब डिवीजन से 3 हजार 831 खम्भे (पोल) गायब होने का मामला सामने आया है। लाखों रुपए के पोल गायब होने के मामले में निगम ने सब डिवीजन के 14 अभियंताओं व कर्मचारियों के खिलाफ जांच शुरू करते हुए चार्जशीट जारी कर दी है।

अजमेर डिस्कॉम ने लाडनूं सब डिवीजन को 7 हजार 278 पोल जारी किए थे। अभियंताओं ने 3 हजार 447 पोल तो उपयोग में ले लिए लेकिन 3 हजार 831 पोल का हिसाब किताब ही नहीं है। इन पोल की कीमत करीब 96 लाख रुपए है। इस मामले में शिकायत निगम मुख्यालय को प्राप्त हुई थी। इसमें बताया गया था कि सब डिवीजन के अभियंता पोल का दुरुपयोग कर रहे हैं। पोलों को तोड़ कर उन्हें यहां-वहां लगाया जा रहा है। निगम ने शिकायत की जांच करवाई तो सही पाई गई। इसके बाद अभियंताओं के खिलाफ कार्रवाई शुरु की गई है।

निगम अधिकारियों का कहना है कि अभियंताओं को निगम के पोलों का सही ढंग से उपयोग नहीं करने तथा उनका रिकॉर्ड से सहीं से नहीं रखने के कारण चार्जशीट जारी की गई है। मामले में अभियंताओं के साथ ही ठेकेदार फर्मों पर भी शिकंजा कसा जा रहा है।

मेटेरियल गायब होना आम बात

नागौर जिले में निगम की सर्वाधिक बिजली चोरी होती है। यहां निगम कर्मचारियों अधिकारियों द्वारा बिजली चोरों व ठेकेदारों को ट्रांसफार्मर, पोल व कंडक्टर बेचने/अवैध रूप से जारी करने के सैकड़ों मामले सामने आ चुके हैं। पोल व तार के जरिए अवैध लाइन खींचकर बिजली चोरी की जाती है। हाल ही निगम ने एक गोदाम पर छापा मारकर कई बंडल तार भी जब्त किए थे इस मामले में प्राथमिकी भी दर्ज करवाई गई। कई कर्मचारी भी चिह्नित किए गए जिन्होंने निगम का माल बेचा।

baljeet singh Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned