पुष्कर में विदेशी पर्यटकों पर सख्ती के बाद बैकफुट पर आया प्रशासन

पहले- पर्यटकों को होटल छोडऩे व नए पर्यटकों को नहीं ठहराने की दी हिदायत, होटलों की आइडी भी कर दी ब्लॉक
बाद में- कोरोना गाइड लाइन की पालना कर ठहराने की मंजूरी, आज एक्टीवेट हो जाएंगी होटल-गेस्ट हाउस की आइडी

By: baljeet singh

Published: 22 Mar 2020, 05:01 AM IST

पुष्कर (अजमेर). कोरोना से बचाव की सजगता को लेकर प्रशासनिक आदेशों की अवहेलना करना विदेशी पर्यटकों व होटल संचालकों को भारी पड़ गया। उपखंड अधिकारी देविका तोमर ने विदेशियों को पुष्कर छोडऩे तथा होटल व गेस्ट हाउस संचालकों को नए पर्यटकों को नहीं ठहराने के आदेश दिए। पर्यटकों के बाजार में समूह में घूमने व रेस्टॉरेन्ट में खाना खाने पर भी सख्त पाबंदी लगा दी गई। वहीं विदेशी पंजीकरण विभाग की ओर से पुष्कर में विदेशी पर्यटकों को ठहराने के बाद सी-फार्म के मार्फत जानकारी भरने के लिए बनाई गई तमाम होटल व गेस्टहाउस की आइडी.ब्लॉक कर दी गई, ताकि पुष्कर में नए पर्यटक नहीं ठहर सकें। हालांकि यह पाबंदी महज कुछ ही घंटे प्रभावी रह सकी।

एसडीएम कार्यालय पर पहुंचे टूरिस्ट

प्रशासनिक निर्देशों की अनुपालना में होटल संचालकों ने उनके यहां ठहरे पर्यटकों को होटलों से निकालना शुरू करने के साथ ही नए पर्यटकों को ठहराना बंद कर दिया। इससे शनिवार को विदेशी पर्यटक परेशान होकर इधर-उधर घूमते नजर आए। एक पर्यटक ने होटल में कमरा नहीं मिलने पर सरोवर के किनारे बनी पुलिया के नीचे प्लाटिस्क की केनोपी लगा कर डेरा जमा लिया। करीब बीस से अधिक विदेशी पर्यटकों ने उपखंड कार्यालय पर पहुंच कर विरोध जताते हुए उपखंड अधिकारी से मुलाकात कर अपनी समस्या बताते हुए राहत की मांग की।

विदेशी दूतावास तक पहुंची शिकायत

पुष्कर की होटलों में विदेशी पर्यटकों को नहीं ठहराने की शिकायत कुछ ही देर में उच्च स्तर तक पहुंच गई। पर्यटकों ने अपने देशों के दूतावासों को उन्हें होटलों से जबरन निकालने का आरोप लगाते हुए स्थानीय प्रशासन की शिकायत कर दी।

वापस लेने पड़े आदेश

मामला तूल पकडऩे पर जिला कलक्टर विश्व मोहन शर्मा व पुलिस अधीक्षक कुंवर राष्ट्रदीप के विचार-विमर्श के बाद इस पाबंदी के चंद घंटे बाद ही शनिवार प्रशासन को बैकफुट पर आना पड़ गया। उपखंड अधिकारी देविका तोमर ने उच्चाधिकारियों के निर्देश मिलने पर आदेश वापस ले लिए। हालांकि कोरोना से बचाव को लेकर जारी गाइड लाइन व नियमों की पालना की शर्त पर होटल संचालकों को उनके यहां से निकाले गए व बाहर से आने वाले नए विदेशी पर्यटकों को होटल में ठहराने की अनुमति दी गई। अब पर्यटकों को मेडिकल स्क्रीनिंग कराने के बाद ही होटल में कमरा दिया जाएगा। इसके अलावा होटल-गेस्ट हाउस की ब्लॉक की गई आइडी रविवार को दुबारा चालू कर दी जाएगी।

अफसरों ने बाजार का किया दौरा

उपखंड अधिकारी देविका तोमर ने पुलिस उप अधीक्षक (ग्रामीण) विनोद कुमार, पालिका ईओ अभिषेक गहलोत, थानाधिकारी राजेश मीणा व पुलिस जाब्ते के साथ पुष्कर के मुख्य बाजार का दौरा कर धारा 144 के तहत समूह में नहीं घूमने, सामूहिक रूप से भोजन या अन्य कोई कार्य नहीं करने, मास्क लगाने व सेनेटाइजर का उपयोग करने की सख्त हिदायत दी। इस दौरान कई विदेशी पर्यटक बिना मास्क लगाए घूमते नजर आए। पूछताछ के दौरान कई पर्यटकों ने पुष्कर में आकर मेडिकल स्क्रीनिंग तक नहीं करवाना बताया। विदेशी पर्यटकों पर प्रशासन के आदेश बेअसर नजर आए।

बाजार सूने, मंदिर बंद
कोरोना को लेकर शनिवार को पुष्कर बाजार की अधिसंख्य दुकाने बंद रही। मंदिरों में श्रद्धालुओं के प्रवेश पर पाबंदी बरकरार रही। पुष्कर सरोवर के घाटों पर श्रद्धालुओं की आवक नगण्य रहा। कस्बे में सन्नाटा पसरा रहा।

इनका कहना है-
उच्चाधिकारियों के निर्देशों के बाद प्रशासन की ओर से कोरोना को लेकर जारी गाइड लाइन की पालना करने की शर्त पर होटलों में पर्यटकों को ठहराने की स्वीकृति दी गई है।

-देविका तोमर, उपखंड अधिकारी पुष्कर

baljeet singh
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned