Admission: कितनी हो प्रथम वर्ष में प्रवेश की आयु, स्थिति नहीं साफ

raktim tiwari

Updated: 21 Oct 2019, 07:50:00 AM (IST)

Ajmer, Ajmer, Rajasthan, India

रक्तिम तिवारी/अजमेर. शिक्षा से किसी को वंचित नहीं किया जा सकता। केंद्र और राज्य सरकार इससे वाकिफ है। लॉ कॉलेज का मामला थोड़ा अलग है। प्रथम वर्ष (first year law)के प्रवेश की अधिकतम आयु कितनी हो इसको लेकर उच्च शिक्षा विभाग (higher education dept) और सरकार को मतलब नहीं है। प्रदेश में आयु को लेकर असमंजस बना कायम है।

प्रदेश के लॉ कॉलेज प्रतिवर्ष प्रथम वर्ष में विद्यार्थियों को प्रवेश देते हैं। नियमानुसार प्रथम वर्ष के लिए स्नातक उत्तीर्ण विद्यार्थी फार्म भर सकते हैं। दो वर्ष पूर्व बार कौंसिल ऑफ इंडिया (bar council of india) ने सभी विधि पाठ्यक्रमों (syllabus) में प्रवेश के लिए 30 साल आयु तय कर दी। देशभर में इसका जबरदस्त विरोध हुआ। इसके खिलाफ सुप्रीम कोर्ट में याचिका दायर हुई। कोर्ट ने 3 मार्च 2017 को उम्र सीमा पर रोक लगा दी। तबसे असमंजस की स्थिति बनी हुई है।

read more: सीबीएसई : परीक्षाओं के पेपर पैटर्न में हो सकता है बदलाव

अंडरटेकिंग लेकर दिए प्रवेश
बीसीआई की लीगल एज्यूकेशन कमेटी ने 30 साल की आयु सीमा तय की। मानव संसाधन विकास मंत्रालय, सुप्रीम कोर्ट और बीसीआई ने आयु सीमा (age limit) को लेकर कोई आदेश जारी नहीं किए। उच्च शिक्षा विभाग ने पुराने नियम में संशोधन नहीं किया। अजमेर सहित अन्य लॉ कॉलेज ने सत्र 2018-19 में अधिक आयु वाले विद्यार्थियों से अंडर टेकिंग (under taken) लेकर प्रवेश दिए थे।

read more: Pushkar Fair 2019: 28 अक्टूबर से 14 नवम्बर तक भरेगा पुष्कर पशु मेला

परीक्षाओं-योजनाओं में होते जमा
आईएएस, आरएएस, नेट, जेईई मेन्स, जेईई एडवांस, गेट और अन्य राष्ट्रीय-राज्य स्तरीय प्रतियोगी परीक्षाओं में लाखों विद्यार्थी फार्म भरते हैं। उम्र सीमा, वांछित दस्तावेजों- डिग्री अथवा अन्य खामियों पर भी संबंधित भर्ती/परीक्षा एजेंसी आवेदन स्वीकार करती हैं। बाद में नियमानुसार कमियों-त्रुटिपूर्ण फार्म को निरस्त (farm cancell) किया जाता है। यही प्रक्रिया सरकार जनकल्याण और अन्य योजनाओं में होती है।

read more: Fees: नहीं मिली रियायत, ‘हवा’ हुआ सरकारी फीस का प्रस्ताव

भर्तियों में बढ़ी आयु सीमा
राज्य सरकार भर्तियों में अधिकतम आयु सीमा को बढ़ाकर 40 साल कर चुकी है। प्रदेश के लाखों अभ्यर्थियों (aspirants) को नौकरियों के आवेदन में लाभ मिला है। लॉ कॉलेज के प्रथम वर्ष की आयु सीमा संशोधन पर सरकार और उच्च शिक्षा विभाग गंभीर नहीं है।

read more: आवासीय क्षेत्र में बना रहा था नकली ऑयल,छापा मारा तो पुलिस भी रह गई दंग

फैक्ट फाइल
15 लॉ कॉलेज हैं प्रदेश में
125 व्याख्याता कार्यरत
5 हजार विद्यार्थी पढ़ते हैं लॉ कॉलेज में
14 साल से बीसीआई की मान्यता का इंतजार

read more: Centenary celebration: सौ साल को हो जाएगा अजमेर का सोफिया स्कूल


अधिकतम आयु सीमा का निर्धारण सरकार और निदेशालय स्तर पर होता है। मौजूदा नियमों में कोई संशोधन कर आदेश जारी होता है, तब ही इसकी पालना हो सकती है।
डॉ. विभा शर्मा कार्यवाहक प्राचार्य लॉ कॉलेज

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned