बादलों ने तोड़ी अपनी चुप्पी : निचले क्षेत्र में सडक़ें डूबी पानी में ,यातायात हुआ प्रभावित

बादलों ने तोड़ी अपनी चुप्पी : निचले क्षेत्र में सडक़ें डूबी पानी में ,यातायात हुआ प्रभावित

Sonam Ranawat | Publish: Sep, 09 2018 01:00:00 PM (IST) Ajmer, Rajasthan, India

 

मदनगंज-किशनगढ़. नगर में पौन घंटे तक बरसात हुई। बरसात के कारण सडक़ें पानी से लबालब हो गई। कई गलियों में पानी भर गया। कुछ जगह घरों में पानी घुसने से लोगों को काफी परेशानी उठानी पड़ी। कई जगहों पर यातायात प्रभावित हुआ। हालात यह हुए कि बरसात समाप्त होने के बाद दस-पंद्रह मिनट तक जाम की स्थिति बनी रही।

 

नगर में दोपहर बाद पौने चार बजे से साढ़े चार बजे तक बरसात हुई। बरसात होने से दुपहिया वाहन चालकों और राहगीरों को जहां बरसात से बचाव की जगह मिली वहीं रुककर बचाव किया। बारिश से सडक़ों पर यातायात कम हो गया और लोग बरसाती पहनकर और तिरपाल ओढकऱ जाते हुए दिखाई दिए। बरसात से सडक़ों का नजारा ही बदल गया। निचले इलाकों की सडक़ें पानी में डूब गईं और घरों तक में पानी घुस गया। इससे लोगों को भारी परेशानी उठानी पड़ी।


कुछ जगह लगा जाम

नगर में बरसात होने से डे्रनेज सिस्टम की पोल खुल गई और जगह-जगह पानी भर गया। रूपनगढ़ आरओबी के नीचे गांधीनगर क्षेत्र में पानी घरों तक में घुस गया। यहां दोनों ओर यातायात रुक गया। नगर के कृष्णापुरी ऊंटड़ा रोड, अजमेर रोड, राजारेडी, जयपुर रोड सहित कई स्थानों पर पानी भर गया। इसी तरह मार्बल एरिया जाने वाले लिंक रोड पर पानी सडक़ से ऊपर बहता रहा। पुराने शहर में भी पिनारी चौक, सरवाड़ी गेट, मसाणिया बालाजी से आगे सिलोरा रोड पर भी पानी भर गया। इससे यहां भी यातायात प्रभावित हुआ और जाम की स्थिति बन गई। मार्बल एरिया में किशनगढ़-हनुमानगढ़ मेगा हाइवे पर भी पानी भर गया और जाम की स्थिति बनी रही।


तिरछे हुए वाहन

बरसात के कारण पानी भरने और पानी के तेज बहाव के कारण दुपहिया वाहन ही नहीं बल्कि तिपहिया और चौपहिया वाहन भी पलट गए। बाद में लोगों ने मशक्कत कर वाहनों को सीधा किया। पुराना शहर मटका मंडी में मुख्य मार्ग पर पत्थरों से भरी टै्रक्टर ट्रॉली, पिकअप सहित कई वाहन तिरछे हो गए। इन वाहनों के कारण जाम की स्थिति हो गई। वाहनों को मशक्कत कर सीधा किया गया तब जाकर यातायात सामान्य हुआ।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

Ad Block is Banned