इनके हैरतअंगेज प्रदर्शन को देख आप भी हो जाएंगे दांतों तले अंगुली दबाने पर मजबूर

इनके हैरतअंगेज प्रदर्शन  को देख आप भी हो जाएंगे दांतों तले अंगुली दबाने पर मजबूर
इनके हैरतअंगेज प्रदर्शन को देख आप भी हो जाएंगे दांतों तले अंगुली दबाने पर मजबूर

Preeti Bhatt | Updated: 13 Sep 2019, 11:50:46 AM (IST) Ajmer, Ajmer, Rajasthan, India

बालाजी मेले के दौरान यादव समाज के नौनिहाल बच्चो और युवाओं ने संस्कृत स्कूल मैदान में सुंदर हैरतअंगेज अखाड़ो का प्रदर्शन कर सभी को दांतों तले अंगुली दबाने पर मजबूर कर दिया।

अजमेर /श्रीनगर .कस्बे में आज बालाजी मेले (shrinagar balaji fair )के दौरान यादव समाज के नौनिहाल बच्चो और युवाओं ने संस्कृत स्कूल मैदान में सुंदर हैरतअंगेज (amazing)अखाड़ो का प्रदर्शन कर सभी को दांतों तले अंगुली दबाने पर मजबूर कर दिया। युवाओं और बच्चो ने उनके गुरुतुल्य जगदीश यादव की देखरेख में सुंदर प्रदर्शन किया। युवाओं के साथ बच्चो ने भी अपनी छिपी हुई प्रतिभा को बाहर निकलने में किसी तरह का संकोच नही किया।

युवाओं और नौनिहाल बच्चो ने जोखिम के साथ आग के लकड़ी में दोनों तरफ जाली बांधकर और कोयले जलाकर सुंदर अखाड़ा का करतब दिखाकर सभी को अचम्भित कर दिया। आग रूपी अखाड़ा खेलने के दौरान सबसे पहले दो युवा बच्चे आये उसके बाद अखाड़ा खेलने वाले और युवाओं एक-एक कर आते गए। एक साथ युवाओं के आने से मानो एक तरह से आइजीटी का शो चल रहा हो ऐसा दिखना प्रतीत हो रहा था। युवा और बच्चो को करीब पंद्रह दिन से वयोवृद्ध जगदीश यादव और एक 22 वर्ष का नौजवान युवा पप्पू यादव स्वयं प्रशिक्षण दे रहे थे।

Read More :

गणेश प्रतिमा विसर्जन जुलूस में बवाल : गुलाल उड़ाते युवक को पुलिस ने पीटा, एक घंटे रहा तनाव

अजमेर जिले में अनंत चतुर्दशी पर जैन मंदिरों में पंचामृत से अभिषेक,अष्टद्रव्यों से पूजा

Watch More:

Anant Chaturdashi: गणपति बप्पा मोरिया, अगले बरस तू जल्दी आना

Ganapati Festival : गणपति बप्पा मोरिया अगले बरस तू जल्दी आ

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned