मर्डर- कई सालों से एक दूसरे को जानते थे दोनों, किराएदार बनकर आया था रफीक

  • रफीक की हरकतों से टूटा था पहला निकाह

अजमेर.

रफीक और शाइस्ता की प्रेम कहानी करीब 13 साल पहले शुरू हुई थी। करीब 13 साल पहले रफीक मृतका शाइस्ता के पिता के मकान में किराए पर रहा था। यहीं से दोनो की जान पहचान हुई।
रफीक शाजापुर में शाइस्ता के पिता के मकान में किराए पर रहने लगा था। इस दौरान उसका उनके घर पर आना-जाना शुरू हो गया। दोनों में नजदीकियां बढ़ गई। धीरे-धीरे प्यार परवान चढ़ गया। लेकिन कहानी में उस समय विकट मोड़ आ गया जब वर्ष 2013 में शाइस्ता का निकाह उज्जैन में हो गया। लेकिन रफीक को यह सहन नहीं हुआ उसने शाइस्ता को फोन कर परेशान करना शुरू कर दिया। निकाह दो महीने में ही वह पीहर आ गई। दोनों में फिर बातचीत और मुलाकातों का दौर शुरू हो गया। घरवालों को पता चलने पर मामला पुलिस के पास भी पहुंचा। लेकिन जेल से बाहर आने के बाद दोनो पक्षों में समझौता हो गया। 2019 में घरवालों ने फिर से शाइस्ता का इंदौर में निकाह कर दिया। लेकिन इस बार भी रफीक ने उसका पीछा नहीं छोड़ा। शाइस्ता अपने पीहर शाजापुर आई। 10 जुलाई को दोनो वहां से लापता हो गए। दोनो अजमेर पहुंचे। यहां गंज में स्थित होटल गुलाब में रुके। जहां 15 जुलाई को सुबह होटल के कमरे में उसका शव पड़ा मिला। घटना के बाद से रफीक फरार हो गया था। जिले पुलिस ने बुधवार को मध्यप्रदेश के शाजापुर से पकड़ लिया।
शाइस्ता के रिश्तेदार शादाब ने आरोप लगाया कि रफीक उसके पुराने फोटो दिखाकर शाइस्ता को ब्लैकमेल करने लगा। नतीजा यह रहा कि दो माह बाद ही शाइस्ता अपने ससुराल उज्जैन से पीहर लौट आई। उसकी हरकतों के चलते ही शाइस्ता का रिश्ता टूट गया। मामले में उन्होंने मध्यप्रदेश शाजापुर कोतवाली थाने में मुकदमा दर्ज कराया, जिसमें वह 3 माह जेल में भी रहा। रफीक और उसकी पत्नी शाइस्ता को पुराने फोटो, वीडियो दिखाकर ब्लैकमेल कर रहे थे। उन्होंने शाइस्ता को दी ज्वैलरी भी हड़प ली।

Read More: होटल की लॉबी से गला दबोचकर कमरे में ले गया था रफीक

मध्यप्रदेश की युवती की अजमेर के होटल में हत्या, प्रेमी फरार

कई जिंदगियों पर असर
शाइस्ता की जान जाने से उसके परिवार को ऐसा जख्म मिल गया है। जिसकी भरपाई मुश्किल है। वहीं आरोपी रफीक भी शादीशुदा है उसके बच्चे भी है। उन पर भी इसका बुरा असर पड़ा है।
आदतन अपराधी है रफीक
पुलिस पड़ताल में सामने आया कि रफीक आपराधिक प्रवृति का है। उसके खिलाफ तिरूपति बालाजी में बैंक लूट, आगरा में एटीएम लूट, राहजनी, देवास में लूट जैसे कई मामले दर्ज हैं। शाइस्ता के परिजनों का आरोप है कि वह शाइस्ता को लगातार ब्लैकमेल कर रहा था। वह शाइस्ता के दूसरे पति को भी इन्दौर कॉल कर परेशान करता था।
पुलिस ने पकड़ा
उल्लेखनीय है कि बुधवार को उसकी लोकेशन मध्यप्रदेश के शाजापुर आ रही थी। अपने परिवार से मिलने शाजापुर गया था। पुलिस ने उसे गिरफ्तार कर लिया।

Show More

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned