Net-jrf exam: नेट-जेआरएफ परीक्षा के प्रवेश पत्र अपलोड

raktim tiwari

Updated: 11 Nov 2019, 08:14:00 AM (IST)

Ajmer, Ajmer, Rajasthan, India

अजमेर. नेशनल टेस्टिंग एजेंसी (national testing agency) विभिन्न प्रतियोगी-प्रवेश परीक्षाओं की तैयारी में जुट गया है। एजेंसी ने रविवार को नेट-जेआरएफ (net-jrf) के प्रवेश पत्र (admission letter) वेबसाइट पर अपलोड कर दिए। अभ्यर्थी आवेदन क्रमांक और पासवर्ड डालकर इन्हें डाउनलोड कर सकते हैं।

Read More: Pushkar mela 2019: पुष्कर के घूमर डांस ने तोड़ा जोधपुर का रिकॉर्ड

एजेंसी के तत्वावधान में 81 विषयों के लिए नेट-जेआरएफ परीक्षा 2 से 6 दिसंबर तक कराई जाएगी। इसके लिए 10 लाख 34 हजार 869 अभ्यर्थियों (aspirants) ने फार्म भरे हैं। एजेंसी ने तयशुदा कार्यक्रम के अनुसार प्रवेश पत्र अपलोड (upload) कर दिए। पहले प्रवेश पत्र 9 नवंबर को अपलोड करने थे, लेकिन जम्मू-कश्मीर में ऑनलाइन फार्म (online form) भराने के कारण कार्यक्रम में आंशिक संशोधन करना पड़ा।

Read More: Pushkar Fair 2019: देखें विदेशी सैलानियों की आस्था, किया पुष्कर सरोवर पूजन

दो बार होती है परीक्षा
कॉलेज और विश्वविद्यालयों में सहायक आचार्य (assistant professor) भर्ती की पात्रता और शोध छात्रवृत्ति के लिए यह परीक्षा वर्ष में दो बार कराई जाती है।

Read More: मूंछे हो तो नत्थूलाल जैसी.........पुष्कर के रेतीले धोरों में मुच्छड़ों ने तानी मूंछे और लगाए ठहाके

सीटेट के प्रवेश पत्र जल्द

सीबीएसई (cbse) के तत्वावधान में दिसंबर में केंद्रीय अध्यापक पात्रता परीक्षा (ctet) होगी। परीक्षा के ऑनलाइन फार्म और त्रुटियां सुधारने का काम पूरा हो चुका है। अभ्यर्थियों की सूचना को अंतिम मानते हुए बोर्ड फार्म की जांच में जुटा है। नवंबर में प्रवेश पत्र अपलोड किए जाएंगे।

Read More: Pushkar Mela: पुष्कर राज के जयकारे, घाटों पर पूजा अर्चना

कार्तिक चतुदर्शी का हुआ स्नान, उमड़ पुष्कर में श्रद्धालु

पुष्कर में श्रद्धालुओं का सैलाब उमडऩा जारी है। सोमवार तडक़े सेकार्तिक चतुदर्शी का स्नान शुरू हो गया। पवित्र सरोवर में श्रद्धालुओं ने डुबकी (holy dip) लगाई। घाट के किनारे विशेष पूजा-अर्चना, दान-पुण्य का दौर जारी है। श्रद्धालुओं ने स्नान के बाद मंदिरों में दर्शन किए।
कार्तिक एकादशी से पूर्णिमा तक पंचदिवसीय स्नान की खास महत्ता है। इसके चलते पुष्कर में आस्था का सैलाब उमड़ रहा है। सोमवार को कार्तिक चतुदर्शी का स्नान हुआ। महिलाएं, पुरुष और पुरोहितों ने सरोवर में डुबकी लगाई। लोग हर-हर महादेव के जयकारे लगाते हुए स्नान में जुटे हैं। स्नान के बाद सभी 52 घाटों पर पूजा अर्चना (worship) का दौर भी शुरू हो गया। पुरोहितों ने लोगों को सरोवर में पूजन कराया।

Read More: देवउठनी एकादशी : पुष्कर में पहला पंचतीर्थ महास्नान आज ,उमड़ा जन सैलाब

[MORE_ADVERTISE1]

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned