scriptजीरा उत्पादन में राजस्थान अव्वल, दुनिया में जीरे की 80 प्रतिशत डिमांड पूरी कर रहा भारत | world demand for cumin1 lakh tonne cumin worth about Rs 2000 crore has been exported from Rajasthan. | Patrika News

जीरा उत्पादन में राजस्थान अव्वल, दुनिया में जीरे की 80 प्रतिशत डिमांड पूरी कर रहा भारत

locationअजमेरPublished: Jan 19, 2024 11:47:24 am

Submitted by:

Kirti Verma

Cumin Production : दुनिया में मसाला फसलों के उत्पादन के साथ निर्यात के मामले में भारत दुनिया की जीरे की 80 प्रतिशत डिमांड पूरी कर रहा है। भारत ने 4194 करोड़ रुपए का जीरा विदेशों में निर्यात किया है। इसमें अकेले राजस्थान से करीब 2000 करोड़ रुपए का 1 लाख टन जीरा निर्यात हुआ है।

cumin_.jpg

चंद्र प्रकाश जोशी

Cumin Production : दुनिया में मसाला फसलों के उत्पादन के साथ निर्यात के मामले में भारत दुनिया की जीरे की 80 प्रतिशत डिमांड पूरी कर रहा है। भारत ने 4194 करोड़ रुपए का जीरा विदेशों में निर्यात किया है। इसमें अकेले राजस्थान से करीब 2000 करोड़ रुपए का 1 लाख टन जीरा निर्यात हुआ है। आज भी राजस्थान के जीरे की क्वालिटी को बेहतर माना जा रहा है।

कुल मसाला फसलों का 1.4 मिलियन टन निर्यात
राष्ट्रीय बीजीय मसाला अनुसंधान केन्द्र तबीजी में मसाला फसलों के उत्पादन, गुणवत्ता सुधार एवं पेस्टीसाइड व फसलों में कीट व्याधि को कम करने को लेकर नए-नए अनुसंधान चल रहे हैं। प्रमुख मसाला फसलों के उत्पादन और देश में जीरे के उत्पादन में राजस्थान अव्वल है। पश्चिमी राजस्थान के जीरे की क्वालिटी बेहतर होने से डिमांड लगातार बढ़ रही है।

यह भी पढ़ें

Good News: राजस्थान सरकार ने फसल बचाने के बदले नियम, किसानों को मिली बड़ी राहत

दुनिया का 60% मसालों का प्रोडक्शन भारत में
केन्द्र विशेषज्ञों के अनुसार दुनिया में मसालों के प्रोडक्शन में भारत की हिस्सेदारी 60 प्रतिशत है। इनमें से 70 प्रतिशत निर्यात करता है। मसाला उत्पादन में राजस्थान, गुजरात और मध्यप्रदेश ही प्रमुख राज्य है। देश में करीब 2 मिलियन हैक्टेयर एरिया में जीरे का उत्पादन हो रहा है।

प्रोसेसिंग यूनिट बढ़े तो किसानों की आय होगी दोगुना
राष्ट्रीय बीजीय मसाला अनुसंधान केन्द्र किसानों को प्रोसेसिंग यूनिट के लिए भी प्रेरित कर रहा है, ताकि किसान जीरे बीज के साथ इससे अन्य प्रोडक्ट बनाकर, इसके ऑयल से भी आय दोगुनी कर सकता है। केन्द्र की ओर से अब प्रोसेसिंग यूनिट लगाने के लिए भी सहयोग किया जा रहा है।

यह भी पढ़ें

उत्पादक मंडियों में नए धनिये की आवक शुरू, ये हैं भाव



किस देश से जीरे की कितनी आय
190 करोड़ रुपए यूएई से
1115 करोड़ नेपाल से
120 करोड़ इजिप्ट से

इनका कहना है...
मसाला फसलों में देश दुनिया की डिमांड को पूरा कर रहा है। दुनिया में जीरे की 80 फीसदी डिमांड को भारत पूरी कर रहा है। इसमें राजस्थान का हिस्सा करीब 50 फीसदी है। राजस्थान के जीरे की क्वालिटी अच्छी है। किसानों को मसाला फसलों के अन्य प्रोडक्ट बनाने, प्रोसेसिंग यूनिट लगाने के लिए प्रेरित किया जा रहा है।

डॉ. विनय भारद्वाज, निदेशक, राष्ट्रीय बीजीय मसाला अनुसंधान केन्द्र, तबीजी अजमेर

ट्रेंडिंग वीडियो