scriptGood News : नई रोडवेज बसों का इंतजार होगा खत्म, जुलाई में आने की उम्मीद | rajasthan roadways new buses latest update | Patrika News
अलवर

Good News : नई रोडवेज बसों का इंतजार होगा खत्म, जुलाई में आने की उम्मीद

राजस्थान रोडवेज की नई बसों का इंतजार जल्द खत्म होने वाला है। बीएस-6 मॉडल की नई बसों की पहली खेप जुलाई में आने की उम्मीद है। पहले चरण में एनसीआर क्षेत्र के डिपो को ज्यादा बसें मिलेंगी।

अलवरJun 17, 2024 / 02:12 pm

Kamlesh Sharma

rajasthan roadways
अलवर। राजस्थान रोडवेज की नई बसों का इंतजार जल्द खत्म होने वाला है। बीएस-6 मॉडल की नई बसों की पहली खेप जुलाई में आने की उम्मीद है। पहले चरण में एनसीआर क्षेत्र के डिपो को ज्यादा बसें मिलेंगी। ऐसे में अलवर, मत्स्य नगर और तिजारा डिपो में चल रहा बसों की कमी कुछ हद तक पूरी हो सकती है। राजस्थान रोडवेज मुख्यालय की ओर से बीएस-6 मॉडल की 590 नई बसों की खरीद की जानी हैं। पहले चरण में करीब 200 बसें जाएंगी। जिनके टेंडर की सभी प्रक्रिया पूरी हो चुकी है। इन बसों के जुलाई के पहले या दूसरे सप्ताह में आने की उम्मीद जताई जा रही है। इन 200 बसों में करीब 40-40 बसें अलवर और मत्स्य नगर डिपो और करीब 10 से 15 बसें तिजारा डिपो को मिल सकती हैं।

अलवर और मत्स्य डिपो की 56 बसें होंगी ऑफ रूट

जिले के अलवर और मत्स्य नगर डिपो में करीब 170 बसें हैं। इनमें रोडवेज की सभी बसें बीएस-3 और बीएस-4 की हैं। इनमें से 56 बसें दस साल पुरानी हो चुकी है। इनमें से 18 बसों का फिटनेस प्रमाण पत्र की अवधि पूरी हो चुकी है और इन्हें ऑफ रूट कर डिपो की वर्कशॉप में खड़ा कर दिया गया है। आने वाले दो महीनों में 38 बसों का फिटनेस खत्म हो जाएगी। ऐसे में इन दोनों डिपो की 56 बसें ऑफ रूट हो जाएंगी।
लम्बे रूट पर भी शुरू हो सकता है संचालन: जिले के अलवर और मत्स्य नगर डिपो में अधिकांश बसें पुरानी हैं। खटारा बसों के कारण लम्बे कई रूटों पर संचालन नहीं किया जा रहा है। नई बसें आने के अलवर केन्द्रीय बस स्टैण्ड से लम्बी दूरी के कई नए रूटों पर बसों का संचालन शुरू किया जा सकता है।

एनसीआर के डिपो रहेंगे प्राथमिकता में

पहले चरण में एनसीआर के डिपो को प्राथमिकता देने के पीछे मुख्य कारण है कि यहां स्क्रैप पॉलिसी लागू हो चुकी है। पॉलिसी के तहत यहां 10 साल पुराने डीजल या 15 साल पुराने पेट्रोल वाहन नहीं चल सकते। अलवर, मत्स्य नगर और तिजारा डिपो से दिल्ली के लिए काफी बसें जाती हैं। दिल्ली में बीएस-3 और बीएस-4 मॉडल के वाहनों के प्रवेश पर रोक है। केवल बीएस-6 मॉडल वाहनों को ही प्रवेश दिया जा रहा है। रोडवेज के पास सभी बसें बीएस-3 और बीएस-4 की मॉडल की हैं। बीएस-6 मॉडल की एक भी बस नहीं है। ऐसे में बीएस-6 मॉडल की अनुबंधित बसों को ही दिल्ली रूट पर भेजा रहा है।
राजस्थान रोडवेज की नई बसों की पहली खेप जुलाई माह में आने की उम्मीद है। पहले चरण में एनसीआर के डिपो को प्राथमिकता से बसें उपलब्ध कराई जाएंगी।

चरतलाल यादव, प्रबंधक (प्रशासन), अलवर डिपो।

Hindi News/ Alwar / Good News : नई रोडवेज बसों का इंतजार होगा खत्म, जुलाई में आने की उम्मीद

ट्रेंडिंग वीडियो