scriptविश्वविद्यालय ने फिर बदला परीक्षा का पैटर्न, अब बहु विकल्प नहीं…लिखित में देने होंगे उत्तर | Patrika News
अलवर

विश्वविद्यालय ने फिर बदला परीक्षा का पैटर्न, अब बहु विकल्प नहीं…लिखित में देने होंगे उत्तर

राजर्षि भर्तृहरि मत्स्य विश्वविद्यालय में पढ़ाई करने वाले स्नातक के 35 हजार विद्यार्थियों की द्वितीय सेमेस्टर परीक्षा के पैटर्न में बदलाव किया गया है। अब बहु विकल्प की जगह परीक्षार्थियों को लिखित में प्रश्नों के उत्तर देने होंगे।

अलवरJun 16, 2024 / 06:03 pm

Umesh Sharma

अलवर.

राजर्षि भर्तृहरि मत्स्य विश्वविद्यालय में पढ़ाई करने वाले स्नातक के 35 हजार विद्यार्थियों की द्वितीय सेमेस्टर परीक्षा के पैटर्न में बदलाव किया गया है। अब बहु विकल्प की जगह परीक्षार्थियों को लिखित में प्रश्नों के उत्तर देने होंगे। जल्द ही द्वितीय सेमेस्टर परीक्षा के आवेदन शुरू होंगे। प्रथम सेमेस्टर के दौरान तीन से चार पेपर्स में गलतियां मिली और पेपर दोबारा करवाने पड़े। इसे देखते हुए विश्वविद्यालय प्रशासन लिखित परीक्षा कराने की तैयारी में जुटा है।
यूं होगा परीक्षाओं का आयोजन…..

मत्स्य विश्वविद्यालय में पढ़ाई करने वाले विद्यार्थियों की परीक्षाएं पहली बार सेमेस्टर प्रणाली के अनुसार आयोजित की गई। विश्वविद्यालय के रजिस्ट्रार कैप्टन फैलीराम मीणा ने बताया कि पहला, तीसरा और पांचवें सेमेस्टर की परीक्षा तो बहुविकल्पीय प्रश्नों के आधार पर होगी और दूसरे, चौथे और छठे सेमेस्टर की परीक्षा में लिखित में उत्तर देने होंगे, ताकि विद्यार्थियों को प्रतियोगी परीक्षाएं देने का अनुभव और लिखने का अभ्यास भी कम नहीं हो सके। हालांकि आगामी परीक्षाओं को आवश्यकता अनुसार बदला भी जा सकता है।
यह भी पढ़ें
-

निशुल्क दवा योजना की रैंकिंग में सुधार, मगर अब भी जिला 17वें पायदान पर

प्रथम सेमेस्टर परीक्षा का परिणाम केवल 15 फीसदी रहा

पहली बार सेमेस्टर प्रणाली से हुई परीक्षा के प्रथम सेमेस्टर में केवल 15 फीसदी विद्यार्थी पास हो पाए और 85 फीसदी विद्यार्थी फेल हो गए। इस गलती को सुधारते हुए विश्वविद्यालय प्रशासन ने परीक्षाओं में सुधार करने का निर्णय लिया है। ताकि द्वितीय सेमेस्टर के परिणाम में इजाफा हो जाए।

Hindi News/ Alwar / विश्वविद्यालय ने फिर बदला परीक्षा का पैटर्न, अब बहु विकल्प नहीं…लिखित में देने होंगे उत्तर

ट्रेंडिंग वीडियो