Breaking News: अंबिकापुर शहर को गार्बेज फ्री सिटी में मिली 5 स्टार रेटिंग, छत्तीसगढ़ का इकलौता शहर, इंदौर भी शामिल

Breaking news: शहरी विकास मंत्रालय द्वारा दिल्ली में जारी किए गए नतीजे, इस साल 6 शहर को मिली है 5 स्टार रेटिंग, 7 स्टार रेटिंग में मिले हैं इतने

By: rampravesh vishwakarma

Published: 19 May 2020, 02:19 PM IST

अंबिकापुर. स्वच्छता सर्वेक्षण 2020 के नतीजे दिल्ली में घोषित किए गए हैं। इसमें गार्बेज फ्री सिटी में अंबिकापुर शहर (Nagar Nigam Ambikapur) को 5 स्टार रेटिंग मिली है। भारत के कुल 6 शहरों को ही 5 स्टार रेटिंग दी गई है।

इससे शहरवासियों में खुशी का माहौल है। हम बता दें कि अंबिकापुर छत्तीसगढ़ का इकलौता शहर है जिसे यह रेटिंग दी गई है। इसमें मध्य प्रदेश के इंदौर जैसे बड़े शहर भी शामिल हैं।


अंबिकापुर शहर ने स्वच्छता के मामले में देशभर में अपना डंका बजाया है। स्वच्छता सर्वेक्षण में पहले से ही अंबिकापुर निगम अवार्ड जीतता आया है। 2 लाख से कम जनसंख्या वाले शहरों में अव्वल भी रह चुका है। इसी कड़ी में शहरी विकास मंत्रालय ने दिल्ली में आज ही स्वच्छता सर्वेक्षण 2020 के भी नतीजे घोषित किए गए।

इसमें भारत का कोई भी शहर 7 स्टार रेटिंग नहीं पा सका। अंबिकापुर समेत भारत के कुल 6 शहरों को ही 5 स्टार रेटिंग दी गई है। इनमें इंदौर जैसे बड़े शहर भी शामिल हैं। अपना शहर अंबिकापुर भी छत्तीसगढ़ का ऐसा इकलौता शहर है जिसे यह अवार्ड मिलेगा। पिछले साल मात्र 3 शहरों को ही 5 स्टार रेटिंग मिली थी।


शहर स्वच्छ रखने सबकी मेहनत
गौरलब है कि स्वच्छता के मामले में अंबिकापुर शहर का नाम यूं ही देश के पटल पर नहीं है। यहां का प्रशासन, निगम प्रशासन, निगम जनप्रतिनिधि तथा शहरवासी भी सफाई को लेकर काफी जागरुक हैं।

स्वच्छता दीदियों व निगम के स्वच्छता स्टाफ की दिन-रात की मेहनत से अंबिकापुर शहर लगातार यह इबारत लिखता आ रहा है।


महापौर ने सभी को दिया धन्यवाद
शहर को 5 स्टार रेटिंग मिलने पर महापौर डा. अजय तिर्की ने काफी खुशी जताई। उन्होंने कहा कि इस सम्मान के हकदार यहां के नागरिकों सहित नगर निगम की पूरी टीम, सदस्यों, जनप्रतिनिधियों, स्वच्छता दीदियां हैं जिन्होंने दिन-रात मेहनत कर हमें इस मुकाम तक पहुंचाया है।

rampravesh vishwakarma Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned