पड़ोसी के घर का रखवाला बनाकर व्यवसायी गया था घूमने, इधर हो गई सवा 2 लाख की चोरी

rampravesh vishwakarma

Publish: Oct, 12 2017 05:07:19 (IST)

Ambikapur, Chhattisgarh, India
पड़ोसी के घर का रखवाला बनाकर व्यवसायी गया था घूमने, इधर हो गई सवा 2 लाख की चोरी

ग्राम रनई में चोरों ने सूने घर को बनाया निशाना, 75 हजार नकद और 1.50 लाख के जेवर पार, पड़ोसी सोने पहुंचा तो चला पता

पटना. ग्राम पंचायत रनई में बुधवार की रात एक व्यवसायी के सूने मकान की खिड़की तोड़कर अज्ञात चोरों ने 75 हजार नकद व 1.50 लाख के जेवर पार कर दिए। व्यवसायी सपरिवार बिलासपुर गया था। उसने घर की रखवाली के लिए पड़ोसी को चाबी सौंप दी थी।

पड़ोसी बुधवार की रात जब वहां सोने पहुंचा तो टूटी खिड़की देखकर हड़बड़ा गया। इसकी सूचना उसने मकान मालिक को दी। मालिक गुरुवार की सुबह यहां पहुंचा और पुलिस को चोरी की जानकारी दी। सूचना मिलते ही एसपी दल-बल के साथ मौके पर पहुंच गए। पुलिस अज्ञात के खिलाफ अपराध दर्ज कर मामले की जांच में जुट गई है।


कोरिया जिले के पटना थानांतर्गत ग्राम पंचायत रनई निवासी कृष्णकांत पाण्डेय किराना दुकान संचालित करते हैं। सपरिवार कुछ दिन के लिए बिलासपुर गए हुए थे। अपने घर की रखवाली करने के लिए चाबी पड़ोसी को दे रखी थी। पड़ोसी बुधवार की रात करीब 8 बजे व्यापारी के घर में सोने गया था।

इस दौरान पता चला के घर के पिछले हिस्से की खिड़की टूटी हुई है। चोरी की आशंका होने पर तुरंत घर मालिक को सूचित किया। व्यवसायी ने बिलासपुर से आने के बाद पुलिस को सूचना दी।

मामले को संज्ञान में लेकर पुलिस ने एसपी को जानकारी दी। सूचना मिलते ही पुलिस अधीक्षक विवेक शुक्ला सुबह लगभग 10 बजे घटना स्थल पर पहुंचकर जायजा लिया। उन्होंने आरोपी के जल्द ही पकड़े जाने का आश्वासन दिया है।


रात 8 बजे से पहले चोरी की घटना
ग्रामीणों के अनुसर अज्ञात चोर ने रात 8 बजे से पहले ही चोरी की वारदात को अंजाम दिया था। क्योंकि पड़ोसी रात ८ बजे व्यवसायी के घर में सोने गया था, तब चोरी होने की जानकारी मिली। वहीं चोरी करने वाले को घर के संबंध में पूरी जानकारी होने की चर्चा की जा रही है।

चोर ने पूर्व नियोजित तरीके से चोरी की वारदात को अंजाम दिया होगा। चोरों को यह बात भी पता था कि घर के सामने नेशनल हाइवे सड़क है। इसपर रात-दिन गाडिय़ां चलती हैं। लेकिन बड़ी चालाकी से व्यवसायी के घर के पीछे की खिड़की तोड़कर अंदर आसानी से प्रवेश किया और नगद, ज्वेलरी को लेकर फरार हो गया।


सीसीटीवी फुटेज खंगाले, डॉग स्क्वायड भी पहुंचा
उप पुलिस अधीक्षक सोनिया उइके व पटना थाना स्टाफ ने चोरों की पतासाजी में डॉग स्क्वायड दल को घटना स्थल पर बुलाकर सुराग ढूंढने का प्रयास किया। लेकिन इससे भी कोई खास फायदा नहीं मिला।

ग्राम पंचायत रनई में एक अन्य व्यवसायी की मैन्युफैक्चर्स कंपनी है जिसने सीसीटीवी कैमरे लगाए हैं। चोरों की पतासाजी के लिए पुलिस उक्त सीसीटीवी फुटेज को खंगाल रही है।

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned