scriptशराबी पिता ने पहले खुद पिया जहर फिर बेटे को भी पिलाया, मासूम की मौत, मां का रो-रोकर बुरा हाल | Drunken father first drank poison then made his son drink, son died | Patrika News

शराबी पिता ने पहले खुद पिया जहर फिर बेटे को भी पिलाया, मासूम की मौत, मां का रो-रोकर बुरा हाल

locationअंबिकापुरPublished: Mar 01, 2024 08:10:11 pm

Big incident: पत्नी से विवाद करने के बाद युवक ने उठाया घातक कदम, मेडिकल कॉलेज अस्पताल में पिता-पुत्र को कराया गया था भर्ती, पिता का चल रहा इलाज

Big incident

Wife crying while his son died

अंबिकापुर. Big incident: बलरामपुर जिले के पीपरसोत में एक हृदय विदारक घटना सामने आई है। 28 फरवरी की शाम शराबी युवक का पत्नी से विवाद हुआ तो गुस्से में उसने जहर पी लिया। इसके बाद उसने अपने 3 वर्षीय मासूम बेटे को भी जहर पिला दिया। परिजनों द्वारा दोनों को इलाज के लिए बलरामपुर अस्पताल में भर्ती कराया गया। यहां दोनों की गंभीर हालत को देखते हुए डॉक्टरों ने उन्हें मेडिकल कॉलेज अस्पताल अंबिकापुर रेफर कर दिया था। यहां इलाज के दौरान 29 फरवरी की शाम को मासूम बेटे की मौत हो गई। घटना के बाद से मां का रो-रोकर बुरा हाल है।

बलरामपुर-रामानुजगंज जिले के पीपरसोत निवासी सोहन राम चेरवा शराब पीने का आदी है। वह अक्सर शराब के नशे में पत्नी से विवाद करता था। 28 फरवरी की शाम को वह शराब पीकर घर आया और किसी बात को लेकर पत्नी सोहरी के साथ विवाद करने लगा।
इस दौरान उसने पत्नी को मारने के लिए डंडा उठाया तो पत्नी डेढ़ वर्षीय बेटी को गोद में लेकर भागकर पड़ोस के यहां चली गई। इस दौरान उसका 3 वर्षीय बेटा घर में ही था।
इधर शराब के नशे में पति ने घर में रखे कीटनाशक का सेवन कर लिया। इसके बाद अपने 3 वर्षीय मासूम बेटे सुशील उर्फ अंशु को भी जहर पिला दिया।

नींद खुलते ही प्रभारी सीईओ को उठा ले गई ईडी की टीम, रेस्ट हाउस में 3 माह से जमा रखा था डेरा


दोनों को पहुंचाया गया अस्पताल
इधर पति द्वारा मारपीट के डर से महिला अपनी बेटी के साथ पड़ोसी के घर में छिपी थी। उसे कुछ देर बाद पता चला की पति ने जहर सेवन कर लिया है और बेटे को भी पिला दिया है। यह खबर सुनते ही वह दौडक़र घर पहुंची और पड़ोसियों की मदद से दोनों को इलाज के लिए बलरामपुर अस्पताल में भर्ती कराया।
यहां चिकित्सकों ने दोनों की गंभीर स्थिति को देखते हुए अंबिकापुर मेडिकल कॉलेज अस्पताल रेफर कर दिया। यहां इलाज के दौरान 29 फरवरी की शाम को मासूम बेटे की मौत हो गई। जबकि पति का इलाज जारी है।

ED raid: अंबिकापुर के व्यवसायी व सप्लायर के मकान में ईडी का छापा, खंगाले जा रहे दस्तावेज


बेटे को याद कर रो रही मां
कलेजे के टुकड़े मासूम बेटे की मौत के बाद मां का रो-रोकर बुरा हाल है। उसकी आंखों से आंसू नहीं सूख रहे हैं। वह बार-बार अपने मासूम बेटे को याद कर रो रही है। वहीं उसका पति भी जीवन और मौत के बीच जूझ रहा है।

ट्रेंडिंग वीडियो