script सचिन पायलट की बैठक से पूर्व कार्यकर्ताओं ने ‘डहरिया हटाओ-सरगुजा कांग्रेस बचाओ’ के लगाए नारे | workers raised slogans of 'Remove Dahriya-Save Surguja Congress' | Patrika News

सचिन पायलट की बैठक से पूर्व कार्यकर्ताओं ने ‘डहरिया हटाओ-सरगुजा कांग्रेस बचाओ’ के लगाए नारे

locationअंबिकापुरPublished: Feb 03, 2024 04:14:05 pm

Sachin Pilot in Ambikapur: अंबिकापुर नगर निगम को लेकर पूर्व मंत्री शिव डहरिया पर लगाया उपेक्षा करने का आरोप, कार्यकर्ताओं का कहना- इसी वजह से कांग्रेस के प्रति जनता में था आक्रोश

Political news
Shiv Dahariya with Charan Das Mahant and Sachin Pilot
अंबिकापुर. Sachin Pilot in Ambikapur: राहुल गांधी की भारत जोड़ो न्याय यात्रा की अंबिकापुर में तैयारियों को लेकर कांग्रेस के राष्ट्रीय महासचिव व प्रदेश प्रभारी सचिन पायलट शनिवार की दोपहर अंबिकापुर पहुंचे। उनके द्वारा कांग्रेस कार्यालय राजीव भवन में तैयारियों को लेकर बैठक ली गई। बैठक से पूर्व कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने नगर निगम पर 5 साल उपेक्षा का आरोप लगाते हुए ‘डहरिया हटाओ सरगुजा कांग्रेस बचाओ’ के नारे लगाए। इस दौरान गहमा-गहमी की स्थिति बन गई।

गौरतलब है कि कांग्रेस के राष्ट्रीय महासचिव व छत्तीसगढ़ प्रदेश प्रभारी सचिन पायलट ने अंबिकापुर में 13 फरवरी को आयोजित राहुल गांधी की भारत जोड़ो न्याय यात्रा को लेकर शनिवार की दोपहर राजीव भवन में कांग्रेस पदाधिकारियों व कार्यकर्ताओं की बैठक ली।
बैठक में प्रदेश अध्यक्ष दीपक बैज, नेता प्रतिपक्ष चरण दास महंत, पूर्व नगरीय प्रशासन मंत्री व सरगुजा के प्रभारी मंत्री शिवकुमार डहरिया समेत अन्य कांग्रेसी पदाधिकारी व कार्यकर्ता शामिल हुए।

बैठक से पूर्व एक घटना ने वहां के माहौल में खलबली मचा दी। दरअसल कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने पिछले 5 सालों में अंबिकापुर नगर निगम पर उपेक्षा का आरोप लगाते हुए पूर्व मंत्री शिव डहरिया के खिलाफ नारे लगाने शुरु कर दिए।
इस दौरान कार्यकर्ताओं ने डहरिया हटाओ-सरगुजा कांग्रेस बचाओ के कई बार नारे लगाए। इससे वहां असहज स्थिति पैदा हो गई। फिर जैसे-तैसे मामला शांत हुआ।

यह भी पढ़ें
पूर्व मंत्री अमरजीत के करीबी अटल यादव व राजीव अग्रवाल के घर भी आयकर का छापा, मचा हुआ है हडक़ंप


कार्यकर्ता बोले- हमारी हार का बना कारण
शिव डहरिया के खिलाफ नारे लगाने वाले कार्यकर्ताओं का कहना था कि पूर्व मंत्री ने नगर निगम अंबिकापुर को उपेक्षित रखा। यही वजह थी कि जनता के बीच कांग्रेस को लेकर आक्रोश था। यही आक्रोश विधानसभा चुनाव में हमारी हार का कारण बना।

ट्रेंडिंग वीडियो