UN Report on migrants: बेघर हुए 70 लाख लोग, युद्ध और आतंकवाद से जीना मुहाल

UN Report on migrants: बेघर हुए 70 लाख लोग, युद्ध और आतंकवाद से जीना मुहाल

Mohit Saxena | Publish: Jun, 20 2019 07:30:00 AM (IST) | Updated: Jun, 20 2019 01:24:58 PM (IST) अमरीका

  • UN Report on migrants: 70 वर्षों में विस्थापितों की सबसे बड़ी संख्या सामने आई
  • युद्ध, संघर्ष और उत्पीड़न से सुरक्षा चाहने वाले लोगों की संख्या सबसे अधिक

नई दिल्ली। युद्ध, उत्पीड़न और संघर्ष से भागे लोगों की संख्या बीते साल विश्व स्तर पर 70 लाख से अधिक हो गई। संयुक्त राष्ट्र शरणार्थी एजेंसी के लगभग 70 वर्षों के संचालन में यह सबसे बड़ा आंकड़ा है। एजेंसी की वार्षिक un report on migrants के अनुसार लगभग 70.8 लाख लोग जबरन विस्थापित किए गए हैं जो पिछले वर्ष की तुलना में 2.3 लाख अधिक है।

Pakistan army chief होंगे NDC के मेंबर, PM Imran Khan का अहम फैसला

 

migrants

उत्पीड़न से सुरक्षा को चाहने वाले लोगों की संख्या अधिक

संयुक्त राष्ट्र के उच्चायुक्त, फिलिपो ग्रांडी का कहना है कि वह इन आंकड़ों में जो देख रहे हैं, वह युद्ध, संघर्ष और उत्पीड़न से सुरक्षा को चाहने वाले लोगों की संख्या है। गौरतलब है कि शरणार्थियों और प्रवासियों के आस-पास की भाषा और माहौल अक्सर विभाजनकारी होता है। यह संख्या दुनिया की आबादी के अनुपात के रूप में विस्थापित लोगों की संख्या में तेज वृद्धि का भी प्रतिनिधित्व करती है। यह आंकड़ा बीते साल शिखर पर था। 1951 में संयुक्त राष्ट्र की स्थापना के बाद से 1992 में प्रति 1,000 की जनसंख्या पर 3.7 प्रतिशत लोग विस्थापित हुए। 2018 तक, यह संख्या दोगुनी से अधिक हो गई थी।

Pakistani Migrants पर सख्त हुई UK सरकार, हजारों को वापस भेजने की तैयारी

वास्तविक आंकड़ा अधिक होने की संभावना

संयुक्त राष्ट्र के अनुसार, 2018 के आंकड़े और अधिक होने की संभावना है। UN Report on migrants के अनुसार वेनेजुएला संकट से विस्थापित लोगों की संख्या के सभी आंकड़े सामने नहीं आए हैं। लगभग चार लाख लोग वेनेजुएला छोड़ कर निकल गए हैं। यह रिपोर्ट दो मुख्य समूहों की पहचान करती है। सबसे पहले शरणार्थी लोगों की, संघर्ष, युद्ध या उत्पीड़न के कारण अपने देश को छोड़ने के लिए मजबूर लोगों की।

दूसरा समूह शरण चाहने वालों का है। ये जन्मस्थल वाले देश से बाहर के लोग हैं जो अंतर्राष्ट्रीय संरक्षण में हैं, लेकिन उन्हें शरणार्थी का दर्जा दिया जाना बाकी है। दुनिया भर में दो तिहाई से अधिक शरणार्थी सीरिया, अफगानिस्तान, दक्षिण सूडान, म्यांमार और सोमालिया से हैं। सीरिया में शरणार्थियों की संख्या 6.7 लाख के साथ सबसे अधिक है। इसके बाद अफगानिस्तान में 2.7 लाख शरणार्थी हैं।

विश्व से जुड़ी Hindi News के अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook पर Like करें, Follow करें Twitter पर ..

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned