scriptJapan and Korea disputed the Dodko Islands for 300 years | इस द्वीप के लिए आपस में लड़ रहे जापान और कोरिया, जानिए ऐसी क्या खास बात है यहां जिसके लिए दोस्त बन गए दुश्मन | Patrika News

इस द्वीप के लिए आपस में लड़ रहे जापान और कोरिया, जानिए ऐसी क्या खास बात है यहां जिसके लिए दोस्त बन गए दुश्मन

इस कांफ्रेंस में दक्षिण कोरिया के उप विदेश मंत्री चोई जोंग कुन और जापानी उप विदेश मंत्री ताकेओ मोरी की अनुपस्थिति में अमरीकी उप विदेश मंत्री वेंडी शेरमेन को सवालों के जवाब देने पड़े। वेंडी ने कहा कि जापान और दक्षिण कोरिया के बीच कुछ द्विपक्षीय मतभेद हैं जिन्हें सुलझाया जा रहा है।

 

नई दिल्ली

Published: November 18, 2021 05:36:09 pm

नई दिल्ली।

जापान के उप विदेश मंत्री ताकेओ मोरी ने वाशिंगटन में दक्षिण कोरियाई और अमरीकी उप विदेश मंत्री के सामने एक द्वीप के विवाद को लेकर पहले से तय कांफ्रेस में आने से मना कर दिया।
japan.jpg
,,
इस कांफ्रेंस में दक्षिण कोरिया के उप विदेश मंत्री चोई जोंग कुन और जापानी उप विदेश मंत्री ताकेओ मोरी नहीं आए, जिसके बाद अमरीकी उप विदेश मंत्री वेंडी शेरमेन को सवालों के जवाब देने पड़े। वेंडी ने कहा कि जापान और दक्षिण कोरिया के बीच कुछ द्विपक्षीय मतभेद हैं जिन्हें सुलझाया जा रहा है। बता दें कि एक द्वीप ऐसा है जिसे जापान ताकेशिमा कहता है और दक्षिण कोरिया डोकडो।
यह भी पढ़ें
-

खुलासा: विज्ञापन नियमों में बदलाव के बावजूद नहीं सुधरा फेसबुक, बच्चों के निजी डेटा को कर रहा ट्रैक, इससे उनकी जिंदगी हो सकती है बदतर

मौजूदा वक्त में इस द्वीप पर दक्षिण कोरिया का नियंत्रण है। इस द्वीप को लियानकोर्ट रॉक्स के नाम से भी जाना जाता है। रिपोर्ट्स बताती हैं कि इस द्वीप को लेकर 300 से अधिक सालों से कोरिया और जापान के बीच विवाद जारी है।दक्षिण कोरिया का कहना है कि 1696 में जापानी और कोरियाई मछुआरों के बीच हुए विवाद के बाद जापान ने डोकोडो द्वीप को कोरियाई क्षेत्र के रूप में मान्यता दी थी लेकिन 1905 में जापान ने कब्जा कर लिया था जो कि 1945 तक रहा।
कोरिया का कहना है कि दूसरे विश्व युद्ध के बाद यह फिर से कोरिया के वापस नियंत्रण में आ गया। हालांकि जापान इन बातों से इनकार करता है और कहता है कि ताकेशिमा द्वीप हमेशा से जापान का हिस्सा रहा है। मामले को लेकर अमरीका में जापानी दूतावास के प्रवक्ता मसाशी मिजोबुची ने कहा है कि दक्षिण कोरिया के पुलिस प्रमुख द्वारा विवादित ताकेशिमा द्वीप की यात्रा पर टोक्यो ने एक मजबूत विरोध दर्ज किया था। ऐसे में इन परिस्थितियों में हमने फैसला किया है कि संयुक्त प्रेस कॉन्फ्रेंस करना ठीक नहीं है।
यह भी पढ़ें
-

अमरीकी शख्स का दावा- एलियंस ने मेरा अपहरण कर लिया और हाथ में अजीब सा यंत्र फिट कर दिया, इसके बाद से मेरी जिंदगी तबाह हो गई

दक्षिण कोरियाई विदेश मंत्रालय के एक प्रवक्ता ने मामले को लेकर कहा है कि दक्षिण कोरिया का रुख पहले की तरह है कि डोकडो ऐतिहासिक, भौगोलिक रूप से और अंतरराष्ट्रीय कानून के तहत दक्षिण कोरिया का भाग है।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

बड़ी खबरें

Republic Day 2022 LIVE :गणतंत्र दिवस के अवसर पर जनरल बिपिन रावत समेत 4 हस्तियों को पद्म विभूषणRepublic Day 2022: 939 वीरों को मिलेंगे गैलेंट्री अवॉर्ड, सबसे ज्यादा मेडल जम्मू-कश्मीर पुलिस कोस्वास्थ्य मंत्री ने कोरोना हालातों पर राज्यों के साथ की बैठक, बोले- समय पर भेजें जांच और वैक्सीनेशन डाटाBudget 2022: कोरोना काल में दूसरी बार बजट पेश करेंगी निर्मला सीतारमण, जानिए तारीख और समयमुख्यमंत्री नितीश कुमार ने छोड़ा BJP का साथ, UP चुनावों में घोषित कर दिये 20 प्रत्याशीकोरोना पॉजिटिविटी दर में उतार-चढाव जारी, मिले नए 427 केसUP Assembly elections 2022 : 'मुस्लिमों को पिछड़ा बनाने के लिए सरकारें दोषी, बच्चों को हासिल करवाओं तालीम'स्वास्थ्य मंत्री ने कोरोना हालातों पर राज्यों के साथ की बैठक, बोले- समय पर भेजें जांच और वैक्सीनेशन डाटा
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.