कश्मीर में सेना की तैनाती पर पाकिस्तान में मचा हड़कंप, सीमा पर बढ़ाई चौकसी

  • Ceasefire Violation: बीते काफी दिनों से अशांत है नियंत्रण रेखा का इलाका
  • भारत ने कश्मीर में 28 हजार सैनिकों की तैनाती बढ़ा दी है

Shweta Singh

04 Aug 2019, 07:45 AM IST

इस्लामाबाद। भारत की ओर से जम्मू-कश्मीर में सुरक्षा की दृष्टि से उठाए जा रहे कदम से पाकिस्तान में हड़कंप मच गया है। एक पाकिस्तानी अखबार ने दावा किया है कि भारत ने कश्मीर में पहले 10 हजार अतिरिक्त सैनिक भेजे और अब 28 हजार सैनिकोें को फिर से तैनात किया है।

पाकिस्तानी उर्दू अखबार जंग ने सूत्रों के हवाले से दावा किया कि भारत कश्मीर घाटी में सैनिकों की संख्या को बढ़ा रहा है। रिपोर्ट में आगे यह भी कहा गया है कि पाकिस्तान सेना भारतीय सेना की पूरी गतिविधि पर निगाह बनाए हुए है और किसी भी हरकत पर जवाब देने के लिए तैयार है।

रिपोर्ट के मुताबिक, अभी तक यह साफ नहीं है कि भारत ने अचानक 28 हजार सैनिकों को आनन-फानन में तैनात क्यों किया और इसके पीछे आखिर वजह क्या है। हालांकि भारत के इस कदम के बाद से पाकिस्तानी सैनिकों ने सीमा पर चौकसी बढ़ा दी है।

पाकिस्तान: आतंकियों ने पुलिस की गाड़ी को विस्फोट से उड़ाया, पांच की मौत

आपको बता दें कि बीते दिनों बीते दिनों सीमा रेखा पर पाकिस्तान की ओर से तोपों से गोले बरसाए जाने के बाद भारत ने भी कार्रवाई करते हुए मुहतोड़ जवाब दिया था। भारत की कार्रवाई से पाक सेना को जबरदस्त नुकसान हुआ था।

पाक मीडिया ने बाताया था कि पाकिस्तानी सेना के दो जवानों और एक नागरिक की मौत हो गई है, जबकि नौ नागरिक घायल हुए हैं।

पाकिस्तान को भारतीय सेना की दो टूक

सीमा पर पाकिस्तान की ओर से किए जा रहे लगातार सीजफायर उल्लंघन को लेकर भारतीय सेना ने शनिवार को पाकिस्तान को खरी-खरी सुनाया है।

भारतीय सेना ने कहा कि पाकिस्तानी सेना समय-समय पर आतंकवादियों की घुसपैठ कराने की कोशिश करती है। साथ ही आतंकियों को कई तरह के आधुनिक हथियार भी मुहैया कराती है।

पाकिस्तान: FIA ने गुजरांवाला से भारतीय जासूस को पकड़ने का किया दावा

ऐसे में भारत के पास यह अधिकार है कि वह ऐसी हरकतों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई करे। सेना ने कहा कि भारत ने पहले भी कई बार मिलिटरी ऑपरेशन की वार्ता में यह बात स्पष्ट कर दिया है।

बता दें कि इस सप्ताह के शुरुआत में भारतीय सेना ने पाकिस्तान के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की थी। हालांकि पाकिस्तानी मीडिया ने दावा किया था कि भारतीय सेना के हमले में महिलाएं और बच्चे घायल हुए हैं। पाकिस्तान ने इस बाबत भारतीय उच्चायोग को ही तलब किया था।

पाकिस्तान ने मंगलवार को भारतीय राजदूत को सीजफायर उल्लंघन से संबंधित जवाबदेही के लिए बुलाया था। पांच दिनों में यह तीसरी बार था जब भारतीय उप उच्चायुक्त को तलब किया था।

Army

थम नहीं रहा है पाकिस्तान का बड़बोलापन

भारतीय सेना ने पाकिस्तानी सेना के प्रवक्ता के एक ट्वीट के बाद बयान देते हुए कहा कि भारत आतंकियों के खिलाफ है, जिन्हें पाकिस्तान आर्मी मदद करती है। सेना ने कहा कि हमारी कार्रवाई केवल मिलिटरी टारगेट और आतंकियों के खिलाफ है।

पाकिस्तान ने आरोप लगाया था कि भारत ने क्लस्टर बम का इस्तेमाल किया है जो कि अंतरराष्ट्रीय संधि का उल्लंघन है और इसकी आलोचना होनी चाहिए।

इस पर भारत ने जवाब देते हुए कहा कि पाकिस्तान का यह आरोप कुछ नहीं बल्कि एक और झूठ, छल और कपट है। सेना ने साफ कर दिया कि मोर्टार बम में सुराख क्लस्टर बम नहीं हो सकते हैं।

 

विश्व से जुड़ी Hindi News के अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook पर Like करें, Follow करें Twitter पर ..

 

Show More
Shweta Singh Content
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned