SCO शिखर सम्मेलन: इमरान खान के सामने ही पीएम मोदी ने पाक को घेरा, उठाया आतंकवाद का मुद्दा

SCO शिखर सम्मेलन: इमरान खान के सामने ही पीएम मोदी ने पाक को घेरा, उठाया आतंकवाद का मुद्दा

Shweta Singh | Updated: 14 Jun 2019, 06:55:24 PM (IST) एशिया

  • किर्गिस्तान की राजधानी बिश्केक में SCO शिखर सम्मेलन
  • गुरुवार को तजाकिस्तान के रास्ते बिश्केक पहुंचे थे पीएम
  • बैठक के इतर कई राष्ट्राध्यक्षों से की मुलाकात, पाक पीएम को किया नजरअंदाज

बिश्केक। शंघाई सहयोग संगठन ( Shanghai Cooperation Organisation ) में पाकिस्तान के पीएम इमरान खान से हर मौके पर दूरी बनाने वाले पीएम मोदी ने अपने भाषण के दौरान बिना नाम लिए पाक पर जमकर निशाना साधा। SCO के 19वें सम्मेलन में बोलते हुए पीएम मोदी ने कहा कि आतंकवाद का समर्थन करने वाले देशों की पहचान जरूरी है। पीएम मोदी ने आतंकवाद को समाज के लिए नासूर बताते हुए कहा कि सभी देशों को इसके लिए एक साथ आना होगा। शंघाई सहयोग संगठन में हिस्सा लेने के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ( Narendra Modi ) किर्गिस्तान की राजधानी बिश्केक में हैं। पीएम मोदी ने शुक्रवार को SCO शिखर बैठक को संबोधित किया। पीएम मोदी ने अपने सम्बोधन में विकास से लेकर आतंकवाद जैसे कई मुद्दों पर अपने विचार रखे। पीएम मोदी ने जहां एक तरफ क्षेत्रीय सहायता और विकास के मुद्दे पर बात की, वहीं उन्होंने बिना नाम लिए पाकिस्तान पर जमकर निशाना साधा। उन्होंने अगले साल एससीओ बैठक के लिए सभी सदस्य देशों को भारत आने का न्योता दिया ।

क्या कहा पीएम मोदी ने

पीएम मोदी ने सबसे पहले SCO सम्मलेन के आयोजन के लिए किर्गिस्तान के राष्ट्रपति का धन्यवाद दिया। उसके बाद पीएम ने विकास और विकाशशील देशों की समस्याओं की बात की। पीएम ने कहा कि विकासशील देशों में लोगों के हेल्थकेयर पर जोर देने की जरुरत है। पीएम ने इन देशों के बीच आपसी सहयोग पर बल देने की जरुरत बताई। पीएम ने कहा कि दुनिया के सभी देशों को इस मुद्दे पर एकजुट होने की जरुरत है। उन्होंने कहा कि हम आने वाली पीढ़ियों के लिए अनुकूल वातावरण बनाने के लिए प्रतिबद्ध हैं। पीएम ने ऊर्जा के संसाधनों का बेहतर इस्तेमाल करने की जरुरत पर बल दिया। पीएम ने कहा कि SCO देशों में लोगों का आपसी सम्पर्क बहुत कम है जिसे बढ़ाने की जरुरत है। उन्होंने कलह कि SCO देशों के लिए भारत में पर्यटक हेल्पलाइन शुरू की जाएगी।

उठाया आतंकवाद का मुद्दा

एससीओ सम्मलेन में बोलते हुए मोदी ने पाक का नाम लिए बिना आतंकवाद पर जमकर निशाना साधा। पीएम ने कहा कि आतंक का समर्थन करने वाले देशों की पहचान करने की जरूरत है। पीएम ने आतंकवाद पर सभी देशों को साथ आने की जरुरत बताई और कहा कि इसके खतरे से एकजुट होकर निपटना होगा। पीएम मोदी ने श्रीलंका ब्लास्ट की निंदा की। उन्होंने इस हमले में मारे गए लोगों के प्रति अपनी संवेदना व्यक्त की और कहा कि भारत, श्रीलंका के लोगों के साथ बना हुआ है। उन्होंने कहा कि समाज को आतंक से मुख्त करना जरूरी है। पीएम ने पाक का नाम लिए बिना कहा कि आतंकवाद का समर्थन करने वाले देशों की पहचान करने की जरुरत है। अपने संबोधन में मोदी ने अफगानिस्तान का जिक्र किया। पीएम मोदी ने कहा कि अफगानिस्तान हमारे लिए बहुत ही जरूरी है और SCO में अफगानिस्तान शांति वार्ता का रोड मैप तैयार होगा।

इस सम्मेलन के इतर पीएम शुक्रवार को किर्गिस्तान, कजाकिस्तान, मंगोलिया, बेलारस और ईरान के राष्ट्रप्रमुखों के साथ द्विपक्षीय वार्ता करेंगे। इसके साथ ही पीएम किर्गिस्तान के साथ कई समझौतों पर हस्ताक्षर भी करेंगे। इसके बाद पीएम भारत-किर्गिस के संयुक्त बिजनेस फोरम का अनावरण करेंगे।

इमरान खान की कोशिश नाकाम

मोदी की इस यात्रा से पहले और इस सम्मेलन के दौरान भी पाकिस्तानी पीएम इमरान ने बातचीत के लिए अपील की। हालांकि, पीएम मोदी अपने रूख पर कायम रहे। यहां तक रात्रिभोज और फोटो सेशन के दौरान भी दोनों नेताओं के बीच दुआ सलाम तक नहीं हुई।

किर्गिस्तान में मोदी-पुतिन की मुलाकात, अमेठी में राइफल यूनिट के लिए दिया धन्यवाद

पीएम मोदी ने पुतिन का जताया आभार, शी को दी बधाई

SCO शिखर सम्मेलन के इतर पीएम मोदी कई देशों के राष्ट्राध्यक्षों के साथ द्विपक्षीय वार्ता के कार्यक्रम भी तय थे। इसी के तहत पीएम मोदी ने गुरुवाकर को रूसी राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन और चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग के साथ प्रतिनिधिमंडल स्तरीय वार्ता की थी।

बता दें कि यह मुलाकात इन देशों के साथ द्विपक्षीय संबंधों को मजबूती देने के लिहाज से काफी अहम बताई जा रही है। पीएम मोदी ने पुतिन को अपना घनिष्ठ मित्र बताते हुए, उन्हें दिए गए रूस के सर्वोच्च सम्मान के लिए आभार जताया। इसके साथ ही उन्होंने उत्तर प्रदेश के अमेठी में राइफल युनिट स्थापित करने के सहयोग के लिए आभार जताया।

बिश्केक में मोदी ने जिनपिंग को बताया- आतंक मुक्त वातावरण नहीं बना पा रहे पाक से बातचीत का कोई फायदा नहीं

PM Modi Meeting XI Jinping

इमरान खान की मोदी से संबंध सुधारने की अपील, कहा- सबसे बुरे दौर से गुजर रहे हैं भारत-पाक संबंध

शी जिनपिंग को उनके जन्मदिन की अग्रिम बधाई देते हुए उन्होंने कई अहम मुद्दों की बात की। मोदी ने शी से कई मामलों में साथ मिलकर काम करने का न्यौता दिया था। इसके साथ ही पाकिस्तान से वार्ता को लेकर भी अपना रूख साफ करते हुए कहा कि आतंकवाद को लेकर पाक की कार्रवाई काफी नहीं। इसलिए अभी पाक से बातचीत की योजना नहीं है।

 

विश्व से जुड़ी Hindi News के अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook पर Like करें, Follow करें Twitter पर ..

Show More
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned