तालिबानी सजा का शिकार हुई महिला, बॉयफ्रेंड से फोन पर बात करने पर सरेआम मारे 40 कोड़े

इस घटना का वीडियो भी सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है। इसे लेकर अमरीका के कई नेताओं ने आपत्ति जताई है।

By: Mohit Saxena

Published: 28 Apr 2021, 05:17 PM IST

काबुल। अफगानिस्तान से सेना की वापसी का ऐलान होते ही तालिबान एक बार फिर सिर उठाने लगा है। कानून व्यवस्था को दरकिनार कर तालिबान ने एक महिला को इसलिए सजा दी क्योंकि उसने मोबाइल पर अपने बॉयफ्रेंड से बातचीत की थी।

Read More: DRDO ने LCA तेजस से पाइथन-5 एयर-टू-एयर मिसाइल का पहला परीक्षण किया

अफगानिस्तान में इस्लामी कानून शरिया का हिमायती है तालिबान। महिला को फोन पर अपने बॉयफ्रेंड से बात करने के अपराध में उसे सरेआम 40 कोड़े मारे गए हैं। इस घटना का वीडियो भी सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है। इसे लेकर अमरीका के कई नेताओं ने आपत्ति जताई है। उन्होंने अफगानिस्तान में महिलाओं की स्थिति पर बाइडेन सरकार पर हमला बोला है।

बॉयफ्रेंड से बात करने पर दी सजा

एक रिपोर्ट के अनुसार, इस महिला ने शरिया कानून का उल्लंघन किया था। उसने अपने बॉयफ्रेंड से फोन पर बात करी थी। इसके बाद स्थानीय लोग उसको सजा दिलाने के लिए तालिबान के पास पहुंचे। यहां पर पूरे मामले की जानकारी होने के बाद तालिबान के कट्टरपंथी मौलाना ने इस्लामिक कानून के तहत महिला को सरेआम 40 कोड़े मारने का आदेश दिया। इस घटना को देखने के लिए भारी संख्या में आम जनता पहुंची। लोग मूकदर्शक बने इस हैवानियत को देखते रहे।

Read More: देशभर में 18 वर्ष से अधिक उम्र के युवाओं को 1 मई से लगेगा कोरोना का टीका, रजिस्ट्रेशन प्रक्रिया आज से शुरू

हेरात प्रांत में बना ये वीडियो

यह वीडियो हेरात प्रांत का बताया गया है। ये जगह इस इलाके में स्थित हफ्तागोला गांव की है। इस वीडियो फुटेज को पहली बार 13 अप्रैल को फेसबुक पर शेयर किया गया। इस वीडियो में एक महिला को तालिबानी सजा शिकार बताया गया।

Mohit Saxena
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned