हनुमान जी को प्रसाद में चढ़ाए ये खास चीज, मिलेगी अपार समृद्धि

भगवान का ध्यान अपनी और आकर्षित करने के लिए तरह तरह के विधि विधानों से उनकी पूजा करते हैं।
ऐसी ही एक रस्म भगवान को प्रसाद चढ़ाने की भी होती हैं।

By: Shaitan Prajapat

Published: 29 Dec 2020, 08:01 AM IST

अगर आप कड़ी मेहनत कर रहे है और इसके बाद भी आपको सफलता नहीं मिल रही है। शास्त्रों में ऐसा वर्णन मिलता है कि बल और बुद्धि के दाता हनुमान जी की पूजा करनी चाहिए। हनुमान जी को प्रसन्न करना बहुत ही आसान है। मंगलवार और शनिवार के दिन किसी हनुमानजी के मंदिर में उनका ध्यान लगाए। इसके साथ ही मंदिर में जाकर गुड़ चने का प्रसाद चढ़ाये तथा उसे मंदिर में ही भक्तों को बांटे तथा शेष प्रसाद स्वयं व अपने परिवार को ग्रहण कराएं। इस प्रकार आपको लगातार गुड़ चेन का प्रसाद चढ़ाने से आपकी सभी मनोकामनाएं पूरी होगी।

बेहद प्रिय है चना और चिरोंजी
वीर हनुमान जी को चना और चिरोंजी का प्रसाद पसंद आता हैं। इसलिए हर हनुमान मंदिर में चना और चिरोंजी के प्रसाद को सबसे अधिक मात्रा में चढ़ाया जाता हैं। ऐसा कहा जाता हैं कि चना और चिरोंजी दोनों हनुमान जी की बेहद प्रिय चीजे हैं।

यह भी पढ़े :— चमत्कारी शिव मंदिर, बिना आग के बनता है भोजन, गठिया और चर्म रोग होते है ठीक

हनुमान चालीसा का पाठ
हनुमानजी को संकट काटने वाले देवता के रूप में जाना जाता है। चाहे कोई भी काम हो, हनुमानजी की पूजा आराधना करने और प्रसाद चढ़ाने भर से ही कार्य सफल हो जाता है। इसलिए हनुमानजी के मंदिर में प्रसाद चढ़ाने और बांटने के दौरान विश्वास अवश्य ही रखना चाहिये। प्रसाद अर्पित करने के साथ ही यदि हनुमान चालीसा का पाठ कर लिया जाये तो और अधिक उत्तम रहेगा।

बरकत बढ़ाए
मंगलवार के दिन स्नान करने के बाद बरगद के पेड़ का एक पत्ता तोड़ें और इसे साफ स्वच्छ पानी से धो लें। इसको हनुमानजी की प्रतिमा के सामने रखें और फिर इस पर केसर से श्रीराम लिखें। इस पत्ते को अपने पर्स में रख लें। आपके पर्स में बरकत बनी रहेगी। जब यह पूरी तरह से सूख जाए तो इसको नदी में प्रवाहित कर दें।

सिंदूर और चमेली का तेल
मंगलवार और शनिवार के दिन हनुमानजी के किसी मंदिर में जाएं और हनुमानजी को सिंदूर व चमेली का तेल अर्पित करें और अपनी मनोकामना कहें। इससे हनुमानजी प्रसन्न होते हैं और भक्त की हर मनोकामना पूरी करते हैं।

Show More
Shaitan Prajapat
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned