Shani ki Chal 2021-22: वक्री से मार्गी हो रहे हैं शनि, जानिएकब किनको मिलेगी राहत और किनकी बढ़ेगी मुसीबत

Shani Margi 2021: धनु सहित कई राशि के जातकों को होगा लाभ

Shani Dev Shani Sade Sati 2021: न्याय के देवता शनि को ज्योतिष शास्त्र में क्रूर माना जाता है। इनके दंड के विधान के चलते सभी इनसे डरते हैं। ऐसे में एक बार फिर शनि अपनी चाल बदलकर जहां एक ओर कुछ राशियों को राहत देने का कार्य करने वाले हैं। वहीं कुछ राशियों की मुसीबत में इजाफा कर सकते हैं।

दरअसल शनि मकर राशि में साल 2020 से होने के बाद 23 मई 2021 से इस राशि में वक्री चाल से चल रहे हैं। जिसके चलते जहां एक ओर वह लगातार कोरोना के संक्रमण में मदद करते हुए दिख रहे हैं।

Shanidev - signs of kindness of Lord Shani
IMAGE CREDIT: patrika

वहीं उनकी ये उल्टी चाल कई राशियों के लिए खास परेशानी का कारण बनी हुई है। करीब पांच माह तक वक्री चाल चलने के बाद अब 11 अक्टूबर 2021 को सुबह आठ बजे से शनि पुन: मार्गी होने जा रहे हैं।

ज्योतिष के जानकार एके शुक्ला के मुताबिक शनि की उल्टी यानि वक्री चाल के कारण से जिन राशि के जातकों पर शनि की साढ़ेसाती और ढैय्या चलती है, ऐसे जातकों को कई तरह की समस्याओं से दो-चार होना पडता है। ऐसे में अब 2022 यानि अगले साल शनि 29 अप्रैल 2022 को राशि बदलते हुए मकर राशि को छोड़कर कुंभ राशि में चले जाएंगे।

इसका सबसे खास असर ये होगा कि धनु राशि से शनि की साढ़ेसाती हटने के साथ ही इस राशि वालों के लिए अच्छा समय शुरु हो सकता है, वहीं दूसरी ओर धनु राशि से हटने के साथ ही शनि मीन राशि को अपनी चपेट में लेते हुए शनि की साढ़ेसाती का पहला चरण शुरू कर देंगे।

Must read- महादेव की पूजा देती है राहु-केतु के दुष्प्रभावों से मुक्ति

rahu se rahat

कोरोना पर असर: वहीं शनि के वक्री से मार्गी होने का असर कोरोना पर होता हुआ भी देखने को मिलेगा, जिसके बाद 30 अक्टूबर से कोरोना का प्रभाव काफी कम होने का अनुमान है। लेकिन इस बीच शुक्र के बदलाव के कारण 2 अक्टूबर 2021 से करीब 17 अक्टूबर 2021 के बीच में कोरोना का काफी घातक रूप देखने को मिल सकता है, जो पूरे अक्टूबर 2021 में असर दिखाएगा। इसके बाद कोरोना का कुछ प्रभाव 26 दिसंबर 2021 के आसपास से पुन: दिखना शुरु हो सकता है।

Must read- बृहस्पति का मकर राशि में प्रवेश लाया बड़ा खतरा

इन्हें होगा लाभ तो इनकी बढ़ेगी मुसीबत
एक राशि में करीब ढाई वर्षों तक रहने के बाद शनि दूसरी राशि में जाते हैं। जिसका असर सभी राशियों पर पड़ता है। ऐसे में शनि के मार्गी होने से धनु, मकर और कुंभ राशि के जातकों की परेशानियों में कमी आने के साथ ही लाभ में वृद्धि होगी।

Must read- सितंबर 2021 में ग्रहों के राशि परिवर्तन

साथ ही इसके प्रभाव से मिथुन और तुला राशि के जातकों के ऊपर अभी जो शनि की ढैय्या चढ़ी है, इससे भी उनको राहत मिलने की उम्मीद है। शनि के वक्री से मार्गी होने के असर के तहत मेष, कर्क, कन्या, मकर और कुंभ राशि के जातकों को राहत के साथ लाभ मिलने की उम्मीद है। जबकि वृषभ,सिंह, वृश्चिक व मीन राशि वालों के लिए ये समय खास संभल कर रहने वाला रहेगा।

दीपेश तिवारी
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned