लॉकडाउन: यूपी के इस शहर से आई बहुत ही अच्छी खबर, 500 मजदूरों के लिए ऐसे बनाया गया आशियाना

  • लोगों की मदद के लिए जारी किया गया हेल्पलाइन नम्बर

By: Iftekhar

Published: 29 Mar 2020, 12:54 PM IST

बागपत. दूरदराज से आए मजदूरों के लिए जिला प्रशासन ने ठहरने और भोजन की व्यवस्था करने के लिए चार आश्रय स्थलों की व्यवस्था की है। जिलेभर में ऐसे 500 से अधिक मजदूरों को रहने की व्यवस्था की गई है, जिनके पास रहने और खाने का कोई इंतजाम नही है। दूर दराज से मजदूरी के लिए आए लोगों के लिए बागपत शहर में श्याद्वाद कॉलेज को आश्रय स्थल बनाया गया है। इसके लिए बाकायदा हेल्पलाइन नम्बर 8083632115, 8800110434 भी दिए गए हैं। वहीं, बड़ौत में जैन कॉलेज और जैन धर्मशाला को आश्रय स्थल में तब्दील कर दिया गया है। यहां के लिए 9760870948 हेल्पलाइन नंबर जारी किया गया है।

यह भी पढ़ें: जुमे के दिन मस्जिदें रहीं सुनसान, लोगों ने घरों में ऐसे अदा की नमाज

इसके अलावा खेकड़ा बड़ा गांव में भी आश्रय स्थल बनाया गया है, जिसका ह्ल्पलाइन नंबर 9012213920 है। इन स्थलों तक मजदूरों को ले जाने के लिए स्थानीय स्तर पर बसों की व्यवस्था की गई है। पहले दिन चारों आश्रय स्थलों पर 500 से ज्यादा प्रवासी मजदूरों को ठहराया गया। जिलाधिकारी के इस प्रयास से बागपत में रह रहे या हरियाणा से चलकर आए ऐसे प्रवासी मजदूरों को आशा मिला है, जिनका कोई ठिकाना नहीं था और कंपनियों ने उनको बाहर निकाल दिया था।

यह भी पढ़ें: Lockdown के बीच सड़क पर लगा दिया लोगों ने सब्जी बाजार, जमकर हजारों लोगों ने की खरीदारी

जिलाधिकारी ने सख्त हिदायत दी है कि मजदूरों को निकालने वाली ऐसी कंपनियों पर कार्रवाई होगी, जो उनके रहने और खाने का इंतजाम नहीं करेंगे। जिलाधिकारी ने स्वयं ऐसे बेसहारा मजदूरों को खाने के पैकेट दिए और उनका हालचाल जाना। साथ ही मजदूरों को सैनिटाइज भी किया जा रहा है। इसके साथ ही डॉक्टरों की टीम इन लोगों का हेल्थ चेकअप भी कर रही है।

Iftekhar
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned