बलिया हत्यांकांड का मुख्य आरोपी धीरेन्द्र प्रताप सिंह पुलिस की पकड़ से अब भी दूर, वीडियो वायरल कर खुद को बता रहा निर्दोष

  • पुलिस नहीं कर पा रही गिरफ्तार, वीडियो वायरल कर रहा बलिया हत्याकांड का आरोपी
  • मुख्य आरोपी धीरेन्द्र सिंह ने वीडियो वायरल कर खुद के निर्दोष होने और फंसाए जाने का किा है दावा

बलिया. यूपी के बलिया में गुरुवार को खुली पंचायत में हुए हत्याकांड के मुख्य आरोपी धीरेन्द्र प्रताप सिंह को पुलिस गिरफ्तार भले ही नहीं कर पा रही है, जबकि आरोपी खुद के बेगुनाह होने और उसे फंसाए जाने का दावा करते हुए वीडियो वायरल कर रहा है। धीरेन्द्र प्रताप सिंह ने एक वीडियो वायरल कर अपने आपको हत्याकांड में निर्दोष बताया है। वीडियो में उसने एसडीएम और सीओ द्वारा मिलीभगत कर फंसाए जाने का आरोप लगाया है। नौ मिनट के वायरल वीडियेा में वह खुद के निर्दोष होने का दावा करता दिख रहा है। बता दें कि बलिया हत्याकांड में पुलिस ने सिर्फ उसपर ईनाम घेषित किया है, बल्कि उसे भगोड़ा भी घोषित किया है।

 

 

धीरेन्द्र प्रताप सिंह वीडियो में यह कहते दिख रहा है कि उसने अधिकारियों से बवाल की आशंका जाहिर की थी, उसका यह भी आरोप है कि जानबूझकर दूसरे पक्ष के लोगों के घरों के नजदीक पंचायत भवन के पास खेत जुतवाकर वहां पंचायत लगाई गई। उसने एसडीएम और दूसरे पक्ष को एक बिरादरी का बताते हुए उनपर आपस में मिलीभगत का आरोप लगाया है।

 

वीडियो में उसे यह कहते हुए साफ सुना जात सकता है कि मारपीट और पथ्ज्ञराव शुरू हुआ तो वह एसडीएम और सीओ के बगल में खड़ा था। उसने अधिकारियों से मामले को कंट्रोल में करने की गुहार भी लगाई, लेकिन उसकी बातों को नजरअंदाज कर दिया गया, इसके चलते उसके परिवार के लोग दूसरे पक्ष से बुरी तरह घिर गए। उसका यह भी दावा है कि जय प्रकाश पाल की मौत उसकी गोली से हुई ही नहीं, क्योंकि उसने गोली नहीं चलाई।

 

धीरेन्द्र प्रताप सिंह द्वारा पूरे मामले में सीओ और बीडीओ को दोषी ठहराते हुए पुलिस पर अपने परिवार वालों के उत्पीड़न का आरोप लगाया है। इतना ही नहीं वह वीडियो में खुद को सेना का रिटायर्ड जवान बताते हुए इसपर गैव करता दिख रहा है। आरोप लगाया है कि घटना में उसके परिवार के लोग भी घायल हुए हैं, लेकिन जिला और पुलिस प्रशासन उनका मुकदमा नहीं दर्ज कर रहे हैं।

By Amit Kumar

रफतउद्दीन फरीद
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned