script समाज से ही हमारी पहचान, सामाजिक नियमावली का हम सभी को करना चाहिए पालन | Dilliwar Kurmi Kshatriya Samaj | Patrika News

समाज से ही हमारी पहचान, सामाजिक नियमावली का हम सभी को करना चाहिए पालन

locationबालोदPublished: Feb 10, 2024 11:55:26 pm

दिल्लीवार कुर्मी क्षत्रिय समाज के 54वें वार्षिक अधिवेशन की शनिवार को शुरुआत हुई। प्रथम दिन विविध कार्यक्रम हुए। समाज के विकास को लेकर लोगों ने अपनी बातें रखी।

वार्षिक अधिवेशन: दिल्लीवार कुर्मी क्षत्रिय समाज ने विविध आयोजन किए

बालोद. दिल्लीवार कुर्मी क्षत्रिय समाज के 54वें वार्षिक अधिवेशन की शनिवार को शुरुआत हुई। प्रथम दिन विविध कार्यक्रम हुए। समाज के विकास को लेकर लोगों ने अपनी बातें रखी। छत्तीसगढ़ के विभिन्न सर्किलों से पहुंचे प्रतिनिधियों ने अपने-अपने सर्किलों की गतिविधियों की जानकारी दी। महिला अधिवेशन व युवा समिति के अधिवेशन में भी समाज को आगे ले जाने पर चर्चा की गई। 11 फरवरी को अधिवेशन का समापन होगा।

कलश यात्रा निकालकर गांव का भ्रमण किया
कलश यात्रा के साथ समाज के अधिवेशन की शुरुआत हुई। गांव के भ्रमण के बाद देव पूजन हुआ। समाज प्रमुखों ने सामाजिक ध्वज फहराया। वर्षभर में सामाजिक सदस्यों के निधन पर उन्हें श्रद्धांजलि अर्पित की गई। छत्तीसगढ़ के 13 सर्किल व पांच नगर इकाइयों के प्रमुखों ने प्रतिवेदन दिया। आय-व्यय सहित वर्षभर के कार्यों की जानकारी दी गई।

समाज के विकास में सभी आगे आएं
केंद्रीय कोषाध्यक्ष मिलाप देशमुख ने आय-व्यय का विवरण समाज के समक्ष रखा। साथ ही समाज के निर्माणाधीन भवन के लिए दान देने की अपील की। महामंत्री अशोक कुमार देशमुख ने समाज के विकास के लिए सबको आगे आने की बात कही। उन्होंने सभी लोगों से अपील की कि समाज के विकास लिए जो अंशदान तय किया है, उसे निश्चित रूप से समय पर जमा करें। सभी सर्किल पदाधिकारी लगातार रचनात्मक कार्य करें।

समाज के ये प्रमुख लोग रहे उपस्थित
इस अवसर पर समाज के अध्यक्ष डॉ. राजेंद्र हरमुख, उपाध्यक्ष यशवंत दिल्लीवार, सहायक मंत्री विजय बेलचंदन, कार्यालय मंत्री किशुन देशमुख, बचन देशमुख, सेवाराम पिपरिया, दामोदर दिल्लीवार, ओंकारेश्वर हरमुख, पवन दिल्लीवार, सर्किल प्रधान पूर्णानंद बेलचंदन, ग्रामीण प्रमुख दुर्गाराम देशमुख, सचिव कुमार राम देशमुख, शिशुपाल पिपरिया, तिलक राम देशमुख, भानु पिपरिया, धनंजय पिपरिया, कृष्णा देशमुख, बंटी पिपरिया, कीर्ति पिपरिया, टेसू पिपरिया, ललित कुमार देशमुख, बुद्धदेव भारती, महेंद्र कुमार दिल्लीवार, भूषण देशमुख आदि उपस्थित रहे।

एकता से ही समाज का विकास संभव
विशेष अतिथि पूर्व जनपद अध्यक्ष सालिक देशमुख ने कहा कि समाज का विकास तभी संभव है, जब हम सब एक होंगे। समाज से हर व्यक्ति को अपेक्षा होती है, लेकिन उसके अनुरूप हमें समाज को भी देना होगा। एक-दूसरे के विरोध में बातें करने की बजाय हमें एक दूसरे का सहयोग करना होगा। चाहे मामला राजनीति से जुड़ा हो या समाज से।

समाज को मानें सर्वोपरि
मुख्य अतिथि सेवानिवृत्त शिक्षक भागीरथी देशमुख ने कहा कि प्रत्येक व्यक्ति को समाज को सबसे ऊपर रखना चाहिए। हम जब तक समाज में हैं, तब तक हमारी पहचान है। इसलिए समाज के विकास के लिए हमको काम करना चाहिए। समाज के नियमावली का पालन हमको करना चाहिए।

समाज की प्रतिभाएं सम्मानित
प्रीति देशमुख केंद्रीय महिला अध्यक्ष व पुष्पा पिपरिया सचिव के मार्गदर्शन में आयोजन हुआ। इस बार महिला समिति नेा खर्चीले विवाह को रोकने एक जोड़े का आदर्श विवाह कराया। विभिन्न क्षेत्रों में विशेष कार्य करने वाली महिला बहनों का सम्मान भी किया गया। इसमें खेल, शिक्षा, व्यवसाय व समाजसेवा के क्षेत्र में उल्लेखनीय कार्य की महिलाओं का सम्मान किया गया। विधवा एवं तलाकशुदा महिलाओं के पुनर्विवाह के लिए उन जोड़ों को भी सम्मानित किया गया। इस अवसर पर कोड़ेवा सर्किल की महिला अध्यक्ष शकुन देशमुख, सचिव टुकेश्वरी देशमुख, नागेश्वरी देशमुख, प्रेमा देशमुख, पूर्णिमा देशमुख, धनेश्वरी देशमुख, तीरथ देशमुख, सुनीता बेलचंदन उपस्थित रही।

युवा प्रतिभाओं का सम्मान
युवा समिति के अधिवेशन में विभिन्न क्षेत्रों में उल्लेखनीय कार्य करने वाले युवाओं का सम्मान किया गया। इस अवसर पर सफल व्यवसायी कुलेश्वर देशमुख, टेमेंद्र पिपरिया, लोककला क्षेत्र में नवीन देशमुख, डोमेंद्र देशमुख, खेल प्रतिभा में राजेंद्र देशमुख, सफल उन्नत कृषक ढाल देशमुख, स्वास्थ्य के क्षेत्र में डॉ. मोहन हरदेल, समाज सेवा में नाड़ी वैद्य संत गुरुदेव बीरेंद्र देशमुख का सम्मान किया गया। इस अवसर पर युवा समिति अध्यक्ष योगेश्वर देशमुख, कमलेश देशमुख, तिलक देशमुख, हरिवंश देशमुख आदि उपस्थित रहे।

ट्रेंडिंग वीडियो