Dhanteras 2020: दीपावली से पहले धनतेरस पर 'धन वर्षा' की उम्मीद, ये चीजें खरीदनी होती है शुभ

- धनतेरस (Dhanteras 2020) त्योहार के लिए बाजार सजकर तैयार
- किसानों और केंद्रीय कर्मचारियों को मिला है बोनस

By: Ashish Gupta

Updated: 11 Nov 2020, 09:29 PM IST

बलौदा बाजार. बीते कई दिनों से सुस्त पड़े बाजार में अब धनतेरस (Dhanteras 2020) तथा दीपावली त्योहार (Diwali Festival 2020) की रौनक नजर आ रही है, जिससे व्यापारी उत्साहित हैं। बुधवार को धनतेरस के एक दिन पूर्व बाजार में व्यापारियों द्वारा भी जमकर तैयारी की गई तथा दुकानों तथा शोरूम की साज-सज्जा कराने के साथ ही साथ डिस्प्ले, लाइटिंग, फ्लावर डेकोरेशन तथा आकर्षक ऑफर के बोर्ड लगाए गए हैं। व्यापारियों को पूरी उम्मीद है कि धनतेरस के दिन बाजार में वास्तव में धन की वर्षा होगी, जिससे सुस्त पड़े बाजार में फिर से रौनक तेजी से लौट आएगी, जिसके बाद दीपावली के पांच दिन जमकर बिक्री होगी।

बर्थडे पार्टी में बुलाकर शादीशुदा महिला से रेप, फिर वीडियो बनाने के नाम डराकर करता रहा दैहिक शोषण

गुरुवार से हिन्दू धर्म का सबसे बड़ा त्योहार दीपावली प्रारंभ होगा। पांच दिन के दीपावली त्योहार का पहला दिन गुरुवार को धनतेरस रहेगा। धनतेरस त्योहार के लिए बाजार सजकर तैयार हो गया है। बीते वर्षों तक 1 नवंबर से धान की खरीदी प्रारंभ हो जाती थी, जिसकी वजह से किसानों के पास पैसा आ जाता था। परंतु इस वर्ष धान खरीदी विलंब से होने के बावजूद राज्य शासन द्वारा बीते वर्ष के धान का बोनस दिए जाने, केन्द्रीय कर्मचारियों को बोनस दिए जाने तथा माह के मध्य दीपावली त्योहार होने पर शासकीय तथा निजी संस्थानों के कर्मचारियों को वेतन मिल जाने के बाद बाजार में फिर से ग्राहकों की भीड़ नजर आ रही है। बुधवार को भी दिन भर चहल-पहल रही तथा ग्राहकों ने बाजार पहुंचकर जमकर खरीदारी की। जिसकी वजह से अब धीरे-धीरे दीपावली बाजार की तेजी नजर आने लगी है। धनतेरस के दिन ग्राहकों द्वारा सोने, चांदी, कांसा-पीतल के बर्तन, वाहन आदि की खरीदी की जाती है, जिससे व्यापारियों को धनतेरस बाजार के तेज रहने की पूरी उम्मीद है।

जन्मदिन बना आखिरी दिन: दोस्तों के साथ बर्थडे सेलिब्रेट करने गए 3 युवक डैम में डूबे

धनतेरस में जमकर बिक्री को लेकर उत्साह
गौरतलब हो कि बीते कुछ दिनों से बाजार में सुस्ती नजर आ रही थी, जिसकी प्रमुख वजह बाजार की मंदी के साथ ही साथ कोरोना संक्रमण का भय तथा सोने-चांदी की कीमतों का तेज होना तथा ग्रामीणों के पास नकदी की कमी होना रहा है। परंतु, राज्य शासन के द्वारा बीते वर्ष धान खरीदी के दिए बोनस ने बाजार में जबर्दस्त असर डाला है जिसकी वजह से अब बाजार में तेजी आ गयी है। रही सही कसर बीते सप्ताहभर से सोने के दामों में 1500-2000 रुपए प्रति दस ग्राम की मंदी भी रही है। जिसका असर अब पूरे बाजार में नजर आने लगी है, जिससे व्यापारी भी बेहद उत्साहित हैं। सराफा व्यापारी प्रवीण शुक्ला, अनिल सोनी ने बताया कि धनतेरस के दिन सामान्य रूप से लोग सोने-चांदी की खरीदी करते हैं। बीते कुछ दिनों में सोने के दाम कम हुए हैं, जिसका असर बाजार पर नजर आ रहा है। पूरी उम्मीद है कि धनतेरस के दिन बाजार में जमकर बिक्री होगी।

निजी स्कूल की मनमानी फिर शुरू, फीस नहीं देने वाले 200 बच्चों को क्लास से किया बाहर

ये चीजें खरीदनी होती है शुभ
भगवान धनवंतरी की धातु पीतल मानी गई है, इसलिए धनतेरस पर पीतल के बर्तन खरीदना बहुत शुभ माना जाता है। इसके अलावा धनतेरस पर सोने, चांदी, तांबे आदि का सामान और बर्तन खरीदना भी बेहद शुभ माना जाता है। इन धातुओं की चीजें बहुत शुभ मानी जाती हैं, लेकिन इन धातुओं को खरीदते समय इनकी शुद्धता को अच्छे से जांच कर ही लेना चाहिए। धनतेरस के दिन ये चीजें घर में लाने से मां लक्ष्मी और धनवंतरी भगवान की कृपा से आरोग्यता और समृद्धि आती है। इसी प्रकार झाड़ू को मां लक्ष्मी का प्रतीक माना जाता है, इसलिए धनतेरस पर झाड़ू खरीदने का भी महत्व माना जाता है। मान्यता है कि इस दिन नई झाड़ू लाने से मां लक्ष्मी का आगमन होता है। झाड़ू लाने से घर की नकारात्मक ऊर्जा बाहर निकल जाती है।

Show More
Ashish Gupta Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned