scriptअब व्यवस्थित हुआ अस्पताल के आईसीयू का तापमान | cooling facelity on in baran hopital | Patrika News
बारां

अब व्यवस्थित हुआ अस्पताल के आईसीयू का तापमान

जिला अस्पताल प्रशासन की ओर से लम्बे इंतजार के बाद आईसीयू का तापमान व्यवस्थित रखने की ओर ध्यान देना शुरू किया है। कुछ दिनों पहले आईसीयू में नए एसी लगाए गए है। इससे मरीजों को गर्मी और उमस से परेशान नहीं होना पड़ेगा। जिला अस्पताल प्रशासन की ओर से दस-दस बैड के दो आईसीयू संचालित किए जा रहे है, लेकिन पिछले कई दिनों से दोनों आईसीयू में एसी खराब पड़े हुए थे। मरीजों को खासी असुविधा का सामना करना पड़ रहा था।

बारांJun 17, 2024 / 12:27 am

mukesh gour

जिला अस्पताल प्रशासन की ओर से लम्बे इंतजार के बाद आईसीयू का तापमान व्यवस्थित रखने की ओर ध्यान देना शुरू किया है। कुछ दिनों पहले आईसीयू में नए एसी लगाए गए है। इससे मरीजों को गर्मी और उमस से परेशान नहीं होना पड़ेगा। जिला अस्पताल प्रशासन की ओर से दस-दस बैड के दो आईसीयू संचालित किए जा रहे है, लेकिन पिछले कई दिनों से दोनों आईसीयू में एसी खराब पड़े हुए थे। मरीजों को खासी असुविधा का सामना करना पड़ रहा था।

जिला अस्पताल प्रशासन की ओर से लम्बे इंतजार के बाद आईसीयू का तापमान व्यवस्थित रखने की ओर ध्यान देना शुरू किया है। कुछ दिनों पहले आईसीयू में नए एसी लगाए गए है। इससे मरीजों को गर्मी और उमस से परेशान नहीं होना पड़ेगा। जिला अस्पताल प्रशासन की ओर से दस-दस बैड के दो आईसीयू संचालित किए जा रहे है, लेकिन पिछले कई दिनों से दोनों आईसीयू में एसी खराब पड़े हुए थे। मरीजों को खासी असुविधा का सामना करना पड़ रहा था।

दोनों वार्ड में लगाए नए एसी, मरीजों को मिलने लगी राहत

बारां. जिला अस्पताल प्रशासन की ओर से लम्बे इंतजार के बाद आईसीयू का तापमान व्यवस्थित रखने की ओर ध्यान देना शुरू किया है। कुछ दिनों पहले आईसीयू में नए एसी लगाए गए है। इससे मरीजों को गर्मी और उमस से परेशान नहीं होना पड़ेगा। जिला अस्पताल प्रशासन की ओर से दस-दस बैड के दो आईसीयू संचालित किए जा रहे है, लेकिन पिछले कई दिनों से दोनों आईसीयू में एसी खराब पड़े हुए थे। मरीजों को खासी असुविधा का सामना करना पड़ रहा था।
पत्रिका ने प्रमुखता से बताई थी पीड़ा

पिछले दिनों नौतपा के दौरान आईसीयू का तापमान भी आसमान को छू रहा था। जनरल आईसीयू में एक मात्र एसी चल रहा था तथा पांच एसी बंद पड़े हुए थे तथा कोविड आईसीयू में भी 10 बैड पर मात्र एक एसी चालू था। उससे भी कूङ्क्षलग नहीें हो रही थी। यहां गर्मी से परेशान एक मरीज के परिजन तो घर से टेबल फेन लेकर पहुंचे थे। इसी तरह जनरल आईसीयू में गर्मी से परेशान मरीज भर्ती होने के कुछ देर बाद ही दूसरे वार्ड में शिफ्ट हो रहे थे। मरीजों की इस पीड़ा को लेकर राजस्थान पत्रिका के 27 मई के अंक में ‘गर्मी की चपेट में जिला अस्पताल का आईसीयू’ शीर्षक से खबर प्रकाशित की गई थी। इसके बाद प्रशासन हरकत में आया। जांच के आदेश दिए गए और रिपोर्ट मांगी गई।
सोनोग्राफी और जीरियाट्रिक में भी लगे

इसके बाद लोकसभा चुनाव की आचार संहिता की अवधि समाप्त होने का इंतजार किया गया गया। आचार संहिता समाप्त होने के दो दिन बाद 8 जून को आधा दर्जन नए एसी लगाए गए। 1.5 टन के दो एसी कोविड- आईसीयू में लगाए गए। दो टन का एक एसी अदानी ओपीडी ब्लॉक में सोनोग्राफी रूम में लगाया गया। इसके अलावा दो टन के दो एसी जनरल आईसीयू में लगाए गए तथा एक एसी जीरियाट्रिक वार्ड में लगाया गया।
जनरल आईसीयू ओर कोविड आईसीयू में दो-दो नए एसी लगाए गए है। इससे 3-3 एसी हो गए है। अन्य स्थानों पर भी प्राथमिकता के तहत एसी, कूलर लगाए गए है। मरीजों को राहत पहुंचाने पर विशेष ध्यान दिया जा रहा है।
डॉ. नीरज शर्मा, प्रमुख चिकित्सा अधिकारी, जिला अस्पताल, बारां

Hindi News/ Baran / अब व्यवस्थित हुआ अस्पताल के आईसीयू का तापमान

ट्रेंडिंग वीडियो