कोहरे में लिपटी रही सुबह, रेंगकर चलते रहे वाहन

पौधों पर बर्फ जैसी जम गई ओस की बूंदें, सुबह दस बजे तक रहा घने कोहरे का असर

By: mukesh gour

Updated: 20 Jan 2021, 11:51 PM IST


बारां. शहर समेत जिले में बुधवार अलसुबह से देत तक छाए घने कोहरे से लोग सहमे रहे तथा काफी देर वाहनों की रफ्तार रुकी रही। एकबारगी तो ऐसा लगा मानो बादल जमीं पर उतर आया। घने कोहरे के चलते लोग सकते में रहे। सड़कों में अधिकांश चालकों ने एक ओर खड़े किए रखे तो कुछ वाहन रेंगते हुए चले। कोहरे के कारण सुबह छह से सात बजे के मध्य दृश्यता 5 से 10 मीटर के बीच रही। हालांकि जिले के तापमान में अधिक अंतर नहीं आया। अधिकतम तापमान 26 व न्यूनतम तापमान 10 डिग्री सेल्सियस रहा। दोपहर में मौसम साफ रहा तथा धूप में तेजी भी रही। सुबह जब लोग सोकर उठे तो अचानक घने कोहरे को देख सहम उठे। लोगों ने घरों से बाहर झांककर देखा तो अचरज में पड़ गए। बाद में कुछ लोग घरों से बाहर आए तो कोहरा देख सहम उठे।

read also : आखिर क्यों मैदान में उतरे 350 पुलिस के जवान, 15 सीआई...


नियमित सुबह की सैर पर जाने वाले एडवोकेट हरिनारायण सिंह व जयेश सक्सेना ने बताया कि वे रोजाना सुबह पौने छह बजे के लगभग घर से साइक्लिंग के लिए निकलते हैं। लेकिन घने कोहरे के चलते उन्होंने सुबह साढ़े छह बजे बाद घर छोड़े, इस दौरान 10 से 15 फीट की दूरी तक कुछ दिखाई नहीं दे रहा था। इस दौरान मिले इक्का-दुक्का वाहन भी हैड लाइटें जलकार रेंगते हुए चल रहे थे। अधिकांश वाहन चालकों ने सड़क के सहारे डिपर चालू कर वाहन खड़े किए हुए थे। जिले में सुबह करीब 10 बजे तक घने कोहरे की चादर कम, जयादा गहरी होत रही। वहीं ओस की की बूंदें पेड़-पौधों पर बर्फ की मानिंद जमी दिखी। शहर के निकट से गुजर रहे राष्टीय राजमार्ग 27 पर यातायात सुबह देर तक थमा रहा। लोगों का कहना है कि बरसों बाद ऐसा कोहरा नजर आया है।

Show More
mukesh gour
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned