scriptसीरियल किलर को बेनकाब करेगी एडीजी की स्पेशल 7, आईजी समेत अफसरों ने लिया शाही का जायजा | Patrika News
बरेली

सीरियल किलर को बेनकाब करेगी एडीजी की स्पेशल 7, आईजी समेत अफसरों ने लिया शाही का जायजा

शाही में हो रही सिलसिले बार हत्या के लिए एडीजी रमित शर्मा ने स्पेशल 7 टीम का गठन किया है। एडीजी रमित शर्मा, आईजी डॉक्टर राकेश सिंह समेत पुलिस अधिकारी शाही पहुंचे उन्होंने घटनास्थल का जायजा लिया।

बरेलीJul 05, 2024 / 12:05 pm

Avanish Pandey

बरेली। शाही में हो रही सिलसिले बार हत्या के लिए एडीजी रमित शर्मा ने स्पेशल 7 टीम का गठन किया है। एडीजी रमित शर्मा, आईजी डॉक्टर राकेश सिंह समेत पुलिस अधिकारी शाही पहुंचे उन्होंने घटनास्थल का जायजा लिया। सीरियल किलर को पकड़ने के लिए विशेष रणनीति बनाई गई है।
अनीता की हुई थी गला घोट कर हत्या

शाही के गांव हौसपुर निवासी तोमपाल की पत्नी 45 वर्षीय अनीता देवी की मंगलवार शाम गला घोंटकर हत्या कर दी गई थी। उनका शव शाही-शेरगढ़ मार्ग पर बुझिया माइनर के पास पिंटू शर्मा के गन्ने के खेत में मिला था। इस मामले में अज्ञात के खिलाफ हत्या की रिपोर्ट दर्ज कराई गई है। मगर पूर्व में शाही-शीशगढ़ क्षेत्र में हुई नौ महिलाओं की हत्या के चलते इस मामले को उन केस से जोड़कर भी देखा जा रहा है। गुरुवार को तीसरे दिन तक थाना पुलिस खुलासे की दिशा तय नहीं कर सकी तो अपराह्न करीब साढ़े चार बजे एडीजी रमित शर्मा और आईजी डॉ. राकेश सिंह शाही थाने पहुंचे। उन्होंने थाने में ही एसपी साउथ मानुष पारीक, एसपी नॉर्थ मुकेश चंद्र मिश्र, एसपी क्राइम मुकेश प्रताप सिंह, सीओ मीरगंज डॉ. दीपशिखा, सीओ हाईवे नितिन कुमार, सीओ बहेड़ी अरुण कुमार सिंह और शाही, शेरगढ़, फतेहगंज पश्चिमी व शीशगढ़ के थाना प्रभारी के अलावा सर्विलांस व एसओजी टीम के साथ शाम सात बजे तक बैठक की। इसके बाद वे लोग घटनास्थल पर पहुंचे और पूरे घटनाक्रम की जानकारी ली। अनीता के पति सोमपाल को वहां बुलाकर कई पहलुओं पर जानकारी ली गई और जल्द खुलासे का आश्वासन दिया।
हत्याओं के खुलासे के लिए स्पेशल टीम को दिए एडीजी आईजी ने टिप्स

मीटिंग के बाद एडीजी और आईजी ने थाने के सभी पुलिसकर्मियों के अलावा इस केस पर लगी टीमों को बुलाकर वार्ता की। उनसे अब तक की प्रगति के बारे में जानकारी लेकर इलाके में मुखबिर तंत्र सक्रिय करने, सीसीटीवी फुटेज समेत अन्य बिंदुओं पर जानकारी कर खुलासे में जुटने को कहा। अधिकारियों ने कहा कि घटना से जुड़े छोटे से छोटे बिंदु को भी गंभीरता से लेकर जांच की जाए।
हत्या का पैटर्न पुराना या कुछ नया दोनों बिंदुओं पर करें जांच

अफसरों का दावा है कि अनीता की हत्या पूर्व में हुई घटनाओं से अलग है। उनका कहना है कि पूर्व में हुई घटनाओं में लूट नहीं हुई है लेकिन यहां अनीता के दस हजार रुपये भी गए हैं। इस वजह से इनमें समानता होने की संभावना बहुत कम है। फिर भी उन्होंने पुलिसकर्मियों को दोनों तरह से मामलों को जोड़कर काम करने के निर्देश दिए।

Hindi News/ Bareilly / सीरियल किलर को बेनकाब करेगी एडीजी की स्पेशल 7, आईजी समेत अफसरों ने लिया शाही का जायजा

ट्रेंडिंग वीडियो