script राजस्थान में यहां 15 दिन में दो सगे भाइयों की मौत, गांव में छाई शोक की लहर | Two real brothers died within 15 days, a wave of mourning spread in the village | Patrika News

राजस्थान में यहां 15 दिन में दो सगे भाइयों की मौत, गांव में छाई शोक की लहर

locationबस्सीPublished: Jan 16, 2024 09:04:39 am

Submitted by:

santosh Trivedi

पिता पप्पू लाल अपने दोनों बच्चों की परवरिश कर कुछ बनना चाहता था। इसी को लेकर जयपुर में मजदूरी कर बच्चों की पढ़ाई करवा रहा था। लेकिन 15 दिन के अंदर दोनों बेटों की मौत हो गई।

two_brothers.jpg

जयपुर। कोटखावदा के ग्राम बाकंल्या जगदीशपुरा के दो सगे भाइयों की 15 दिन में मृत्यु हो गई। जिसमें एक कि सोमवार को मृत्यु उपचार के दौरान हो गई। जिससे गांव में सूचना मिलते ही शोक की लहर दौड़ गई।

यहां ग्राम जगदीशपुरा निवासी कजोड़ जरावत ने बताया कि बाकंल्या जगदीशपुरा निवासी पप्पू मीणा जयपुर प्रताप नगर रह कर मजदूरी का काम करता है। वहीं उसने अपने दोनों बच्चों मनीष मीणा व दिनेश मीणा भी थे जो वही अपने पिता के साथ रह कर पढ़ाई करते थे।

1 जनवरी 2024 को दोनों भाई प्रताप नगर कमरे से पैदल लाइब्रेरी के लिए जा रहे थे। तभी पिछे से एक वाहन ने टक्कर मार दी। जिससे दोनों भाई गम्भीर रूप से घायल हो गए थे। जिनका एसएमएस अस्पताल में उपचार चल रहा था। उपचार के दौरान 7 जनवरी को मनीष की मौत हो गई थी। वहीं दिनेश की हालत भी गम्भीर बनी हुई थी। जिसकी 15 जनवरी 2024 को उपचार के दौरान मृत्यु हो गई।

पिता के साथ रह कर कर रहे थे पढ़ाई
मनीष फाइनल कर रहा था व दिनेश द्वितीय वर्ष की पढ़ाई कर प्रतियोगिता परीक्षाओं की तैयारी कर रहे थे। मृतकों की मां लाली देवी की बीमारी के चलते करीब 10 साल पहले ही मृत्यु हो चुकी हैं। तब से ही पिता पप्पू लाल अपने दोनों बच्चों की परवरिश कर कुछ बनना चाहता था। इसी को लेकर जयपुर में मजदूरी कर बच्चों की पढ़ाई करवा रहा था। यहां सोमवार को घायल दुसरे बच्चे दिनेश की मृत्यु के समाचार सुनकर लोगों में शोक सा छा गया। परिजनों सहित ग्रामीणों में सन्नाटा सा छाया गया।

यह भी पढ़ें

ब्रेक फेल होने से पलटी कार, सवार थे एक ही परिवार के चार लोग

यह भी पढ़ें

आज मेरे यार की शादी है... फिर से गूंजेंगी शहनाइयां, ये हैं विवाह के 39 शुभ मुहूर्त, जानें डेट

ट्रेंडिंग वीडियो