कोरोना पर 7 पुस्तक लिखकर गोल्डन बुक ऑफ वल्र्ड रिकॉर्ड बनाने वाले प्रोफेसर कामड़े का कोरोना से निधन, शिक्षा जगत में शोक की लहर

कोरोना (Coronavirus in chhattisgarh) पर एक साल में सात पुस्तक लिखकर गोल्डन बुक ऑफ वल्र्ड रिकॉर्ड बनाने वाले प्रोफेसर कामड़े का कोरोना से निधन हो गया।

By: Dakshi Sahu

Published: 16 May 2021, 12:37 PM IST

दुर्ग. कोरोना (COVID 19) पर एक साल में सात पुस्तक लिखकर गोल्डन बुक ऑफ वल्र्ड रिकॉर्ड बनाने वाले प्रोफेसर कामड़े का कोरोना से निधन हो गया। शासकीय पॉलिटेक्निक दुर्ग (UPU Government Polytechnic Durg) के लोकप्रिय प्रोफेसर शिवानंद कामड़े के कोरोना से निधन से शिक्षा जगत में शोक की लहर है। कोरोना ने कई पुस्तकों के लेखक गोल्डन बुक ऑफ वल्र्ड रिकॉर्ड और इंडिया बुक ऑफ रिकॉर्ड में नामजद प्रोफेसर कामड़े को पिछले दिनों छिन लिया। कोरोनायन, कोरोना कैप्सूल, करोना आपदा प्रबंधन, कोरोना फोटो पत्रकारिता और कोरोना चिंतन जैसी पुस्तक लिखने वाले वरिष्ठ लेखक एवं प्रोफेसर शिवानंद कामड़े के निधन पर पॉलिटेनिक के पूर्व व वर्तमान छात्र छात्राओं ने शोक जताया है।

Read more: कोरोना संक्रमण से 12 घंटे में पति-पत्नी की मौत, सुबह पत्नी ने ली अंतिम सांसें, शाम को चल बसे पति, सदमे में परिवार....

पुस्तक लिखकर बनाया वल्र्ड रिकॉर्ड
प्रोफेसर कामड़े साहित्य के बड़े लेखक थे। उन्होंने साहित्य पर लगभग 90 पुस्तकें लिखी है। पूरे भारतवर्ष के प्रमुख प्रकाशकों ने उनकी पुस्तकों का प्रकाशन किया है। कोरोना महामारी पर 7 पुस्तक लिखकर उन्होंने पिछले साल अपना नाम गोल्डन बुक ऑफ वल्र्ड रिकॉर्ड और इंडिया बुक ऑफ रिकॉर्ड में दर्ज कराया। उसी कोरोना महामारी के चलते ही उनका निधन हो गया। वह पिछले कुछ दिनों से बीमार थे। 62 वर्षीय शिवानंद कामड़े पॉलिटेक्निक कॉलेज दुर्ग में वरिष्ठ व्याख्याता के पद पर कार्यरत थे।

दुर्ग जिले में कोरोना के 288 नए केस, 6 की मौत
दुर्ग जिले में लॉकडाउन लगने के बाद उसका असर अब तेजी से देखने को मिल रहा है। शनिवार को 3674 लोगों की कोरोना जांच की गई जिसमें से 288 नए मामले सामने आए हैं। वहीं 6 संक्रमितों की मौत हुई है। कोरोना की महामारी से लडऩे में टीका बड़ा रोल अदा कर रहा है। यही वजह है कि जिले में टीकाकरण पर प्रशासन जोर दे रहा है। रविवार को भी 18 प्लस के हितग्राहियों का टीकाकरण किया जाएगा। नगर पालिक निगम क्षेत्र में रविवार से जिन स्थानों पर टीका लगाया जाएगा उनमें कांट्रेक्टर कॉलोनी, सुपेला कोल डिपो के पास, मीडिल स्कूल जुनवानी, मीडिल स्कूल नेहरू नगर, कन्या शाला, सुपेला, जवाहर नगर, राधा कृष्णा मंदिर, शास्त्री नगर, सांस्कृतिक भवन, वैशाली नगर, दुर्गा विद्यालय, मिलन चौक, जेपी नगर कैंप-1, जनता स्कूल, कैंप-2, बीएसपी सेक्टर-2 स्कूल, मंगल भवन, छावनी, जवाहर लाल नेहरू विद्यालय, गौतम नगर, पावर हाउस बस स्टैंड, अंडा चौक, खुर्सीपार, भिलाई रेलवे स्टेशन, सेक्टर-7, क्रास स्ट्रीट, सेक्टर-5, शासकीय प्राथमिक शाला, सेक्टर-4, शासकीय प्राथमिक शाला, सेक्टर-7 में कोरोना का टीका लगाया जाएगा।

Dakshi Sahu
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned