पाला पडऩे से फसलें हुई बर्बाद

किसानों ने सरकार से मुआवजा दिलवाने की गुहार

By: Suresh Jain

Published: 26 Jan 2021, 12:52 PM IST

भीलवाड़ा।
जिले के शाहपुरा क्षेत्र में कुछ दिनों से चल रही शीत लहर एवं ठंड के प्रकोप से सैकड़ों हैक्टर भूमि में चने, सरसों, गेंहू एवं जौ की फसल नष्ट हो गई। पाला पडऩे से फसलों में हुए नुकसान की भरपाई करने तथा गिरदावरी की मांग को लेकर सोमवार को ढिकोला पंचायत श्रेत्र के दर्जनों किसानों ने मुख्यमंत्री के नाम ज्ञापन सौंपा।
ढिकोला सरंपच आशादेवी खटीक की अगुवाई में पूर्व सरपंच गणपत, किसान कन्हैया खाती, अर्जुन मीणा, रमेश गिरी, मांगू रेगर, गोकुल रेगर, मदन खटीक, गोपाल खारोल, मोहन बावरी, विजय सिंह आदि शाहपुरा पहुंचे और एसडीएम को बताया कि कोरोना महामारी के कारण लॉकडाउन लगने से काश्तकार पहले से ही आर्थिक संकट से जूझ रहे थे। इन दिनों चल रही शीतलहर व प्राकृतिक प्रकोप के चलते क्षेत्र में पाला गिरने से तकरीबन 300 हैक्टर भूमि पर काश्त गेहूं, जौ, चने की समूल फसले बर्बाद हो चूकी है। पाला पडऩे से फसलों में तैयार होते ही पौधे मुरझा गए। इस कारण परिवार के सदस्यों के साथ-साथ मवेशियों का पेट पालना भी अब मुश्किल होता जा रहा है। किसानों ने पाला पडऩे से खराब हुई फसलों की गिरदावरी करवाने की मांग करते हुए राज्य सरकार से खराबे का मुआवजा दिलवाने की मांग पर जोर दिया।

Suresh Jain Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned