समदानी को नहीं मिला स्टे, कांग्रेस का व्हीप

राजस्थान हाईकोर्ट जोधपुर की सिंगल बैच ने नगर परिषद सभापति ललिता समदानी के अविश्वास प्रस्ताव पर स्टे के लिए दायर याचिका मंगलवार को खारिज कर दी। इसके साथ ही अब समदानी के खिलाफ भाजपा समर्थित पार्षदों की तरफ से आए अविश्वास प्रस्ताव पत्र पर २८ नवम्बर को मतदान का मार्ग प्रशस्त हो गया है। हालांकि सूत्र बताते है कि अब समदानी डबल बैंच में अपील कर सकती है।

By: Narendra Kumar Verma

Published: 27 Nov 2019, 06:03 AM IST

समदानी को नहीं मिला स्टे, कांग्रेस का व्हीप

भीलवाड़ा। राजस्थान हाईकोर्ट जोधपुर की सिंगल बैच ने नगर परिषद सभापति ललिता समदानी के अविश्वास प्रस्ताव पर स्टे के लिए दायर याचिका मंगलवार को खारिज कर दी। इसके साथ ही अब समदानी के खिलाफ भाजपा समर्थित पार्षदों की तरफ से आए अविश्वास प्रस्ताव पत्र पर २८ नवम्बर को मतदान का मार्ग प्रशस्त हो गया है। हालांकि सूत्र बताते है कि अब समदानी डबल बैंच में अपील कर सकती है।

अविश्वास प्रस्ताव को लेकर प्रदेश कांग्रेस ने मंगलवार को व्हीप जारी कर कांग्रेस समर्थित पार्षदों को समदानी के पक्ष में मतदान करने को कहा है, दूसरी तरफ भाजपा ने समर्थित पार्षदों की बाड़ेबंदी और मजबूत करते हुए अपना पक्ष मजबूत होने का दावा किया है। इधर,अविश्वास प्रस्ताव पेश करने के बाद से भाजपा समर्थित पार्षद विधायक विट्ठलशंकर अवस्थी की अगुवाई में मंगलवार को नौंवे दिन भी अज्ञातवास पर रहे।

कांग्रेस समर्थित सभापति ललिता समदानी ने अविश्वास प्रस्ताव को लेकर २८ नवम्बर को जिला प्रशासन द्वारा बुलाई विशेष बैठक को नियम विरूद्ध बताते हुए स्टे के लिए राजस्थान हाईकोर्ट में प्रार्थना पत्र पेश किया था। वही समदानी के स्टे को लेकर दायरे हुए प्रार्थना पत्र पर सुनवाई करने से पहले जिला प्रशासन व भाजपा ने उनका पक्ष जानने के लिए कैवियट दायर की थी। भाजपा लीगल सेल के वरिष्ठ अधिवक्ता छैलबिहारी जोशी व उनकी टीम ने मंगलवार को भाजपा का पक्ष पेश किया। इसमें बताया कि भाजपा समर्थित पार्षदों ने कलक्टर के समक्ष अविश्वास प्रस्ताव पेश करने से पूर्व राजस्थान नगर पालिका (सभापति एवं उप सभापति के विरुद्ध अविश्वास प्रस्ताव नियम 2017 के नियम,3, उप नियम 2) के अन्तर्गत नियमों की पालना हुई जो कि न्यायोचित है।

भाजपा का सुना पक्ष, याचिका खारिज

राजस्थान हाईकोर्ट की पीठ ने मंगलवार दोपहर समदानी के प्रार्थना पत्र पर सुनवाई करते हुए उसे खारिज कर दिया। न्यायालय का तर्क था कि जिला प्रशासन ने अविश्वास प्रस्ताव पर चर्चा के लिए जो बैठक बुलाई वो राजस्थान नगर पालिका की विभिन्न धारा एवं उपधारा के अनुरूप थी। दूसरी तरफ हाईकोर्ट के समदानी का प्रार्थना पत्र खारिज करने के बाद राजनीतिक सरगर्मियां और तेज हो गई है

व्हीप का उल्लंघन पर कार्यवाही
पूर्व कांग्रेस जिलाध्यक्ष अनिल डांगी ने बताया कि प्रदेश कांग्रेस ने मंगलवार को अविश्वास प्रस्ताव पर मतदान के लिए व्हीप जारी की है। इसमें प्रदेश अध्यक्ष ने कांग्रेस समर्थित पार्षदों को समदानी के पक्ष में मतदान करने को कहा है, व्हीप का उल्लंघन करने पर संगठनात्मक कार्यवाही होगी। डांगी ने बताया कि अविश्वास प्रस्ताव में कांग्रेस की जीत होगी, उनका दावा है कि कांग्रेस समर्थित पार्षदों को जबरन बाड़ेबंदी में शामिल कर रखा है, उनका मत भी कांग्रेस को ही मिलेगा।

ओछे हथकण्डे अपनाने का आरोप

भाजपा जिलाध्यक्ष एलएन डाड ने बताया कि हाइकोर्ट ने समदानी की स्टे याचिका खारिज कर अविश्वास प्रस्ताव पर मतदान का मार्ग प्रशस्त कर दिया है। भाजपा पार्षद पूरी तरह से साथ है, वही कई निर्दलीय पार्षदों का भी पार्टी को समर्थन मिला है। डाड ने कांग्रेस पर ओछे हथकण्डे अपनाने का आरोप लगाया है।

समदु, अनिता व मंजू की पैरवी
तमाम दावों के बावजूूद अविश्वास प्रस्ताव को लेकर कांग्रेस धड़ों में बंटती नजर आ रही है। अविश्वास मतदान के बाद उपजी स्थित से निपटने के लिए भी ये धड़े तैयार हे। इसके लिए ये धड़े खेमाबंदी कर अपने-अपने प्रत्याशी की पैरवी कर रहे है। परिषद की प्रतिपक्ष नेता समदु देवी खटीक के पक्ष में एक धड़ा जयपुर तक सक्रिय है। वही मंजू पोखरना व अनिता कंवर की दावेदारी को भी सशक्त करने के लिए धड़े जुड़े हुए है।

कल होगा मतदान

जिला प्रशासन ने राजस्थान नगर पालिका (सभापति एवं उप सभापति के विरुद्ध अविश्वास प्रस्ताव नियम 2017 के नियम,3, उप नियम 2) के अंतर्गत सभापति ललिता समदानी के विरुद्ध अविश्वास प्रस्ताव पर विचार विमर्श के लिए 28 नवंबर को सुबह 11 बजे नगर परिषद के सभा भवन में विशेष बैठक बुलाई है। बैठक की अध्यक्षता अतिरिक्त जिला कलक्टर एवं अतिरिक्त जिला मजिस्ट्रेट (प्रशासन) करेंगे। ये नगर परिषद की विशेष बोर्ड बैठक भी होगी और इसमें अविश्वास प्रस्ताव सदन में रखा जाएगा और चर्चा की जाएगी। इसके बाद मतदान की गोपनीय प्रक्रिया होगी।

Narendra Kumar Verma Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned