शाहपुरा के चारो जैन मंदिर बन्द

दस लक्षण पर्व पर घरों में ही पूजा-अर्चना

By: Suresh Jain

Published: 26 Aug 2020, 05:03 AM IST

भीलवाड़ा।
जिले के शाहपुरा कस्बा कोरोना संक्रमितों की लगातार बढ़ रही संख्या के चलते सभी जैन मंदिर बन्द है। जबकि इन दिनों सकल दिगम्बर जैन समाज दस लक्षण पर्व पर्युषण चल रहे है। दस दिनों तक चलने वाले विशेष महापर्व के दौरान जैन समाज के लोग मंदिरों में विशेष पूजा, अर्चना के साथ कई धार्मिक अनुष्ठान एवं कार्यक्रम करते है। लेकिन कोरोना के चलते कस्बे के चार जैन मंदिरों पर ताले लगे हुए है। मंदिरों में देव दर्शन तक नहीं हो रहे है। इसका मुख्य कारण कस्बे के बीच वार्ड नम्बर २२ इन दिनों कोरोना हॉट स्पॉट बना हुआ है। यहां दो दर्जन से अधिक लोग संक्रमित निकल चुके है। इनमें सबसे ज्यादा जैन परिवार के ही लोग है। इसी वार्ड के पास कस्बे के चारों जैन मंदिर होने से तथा एक जैन परिवार के सदस्य की कोरोना से मौत होने के बाद सभी जैन समाज के लोग डरे हुए है। समाज अध्यक्ष आनंद सेठी ने बताया कि कोरोना गाईड लाइन की पालना करते हुए चारों जैन मंदिरों को बंद रखने का निर्णय किया। सभी कार्यक्रम अपने-अपने घरों में विधी विधान से किए जा रहे है।
घरों में ही पूजा-अर्चना व पाठ
वार्ड के पूर्व पार्षद नरेन्द्र कुमार जैन ने बताया कि कंटेंमेंट जॉन व उसके पास आने वाले चारों मंदिर बंद होने के कारण समाज की महिला, पुरूष, युवक, युवतियां जैन समाज के चलने वाले टीवी चैनलों के माध्यम से सुबह 6 बजे सामायिक, ७ बजे अभिषेक व शान्तिधारा, ंबाद में दस लक्षण पूजा, दोपहर तीन बजे तत्वार्थ सूत्र, शाम ५ बजे प्रतिक्रमण व आरती के बाद ऑनलाइन धार्मिक आयोजन हो रहे है।

Suresh Jain Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned