14 जुलाई को घोषित होगा 10वीं बोर्ड का रिजल्ट : आंतरिक मूल्यांकन के आधार पर आएंगे नतीजे, स्टूडेंट्स इस तरह देख सकेंगे रिजल्ट

दसवीं बोर्ड की परीक्षाओं का परिणाम 14 जुलाई को शाम 4:00 बजे घोषित होगा, छात्र आधिकारिक वैबसाइट पर देख सकेंगे अपना रिजल्ट।

By: Faiz

Published: 12 Jul 2021, 08:54 PM IST

भोपाल/ मध्य प्रदेश माध्यमिक शिक्षा मंडल द्वारा हाईस्कूल सर्टिफिकेट और हाईस्कूल (अंध, मूक बधिर श्रेणी सहित) का रिजल्ट 14 जुलाई की शाम 4 बजे घोषित कर दिया जाएगा। इसमें प्रदेश के करीब साढ़े 10 लाख छात्रों के परीक्षा परिणाम आंतरिक मूल्यांकन के आधार पर घोषित किये जाएंगे। खास बात ये है कि, इस बार किसी भी छात्र को फेल नहीं किया जाएगा। 14 जुलाई की शाम 4 बजे के बाद छात्र एमपी बोर्ड की आधिकरिक वेबसाइट पर अपना परीक्षा परिणाम देख सकेंगे।

 

पढ़ें ये खास खबर- निजी स्कूलों के पक्ष में आई कांग्रेस : पूर्व CM कमलनाथ बोले- कोरोना और लॉकडाउन के कारण बंद हुए 550 स्कूल, सरकार इनकी वित्तीय मदद करे


आधिकारिक वैबसाइट पर देख सकेंगे परीक्षा परिणाम

ये बात तो सभी जानते हैं कि, बीते शेक्षणिक सत्र में कोरोना संक्रमण के चलते बोर्ड द्वारा सामान्य परीक्षा आयोजित नहीं की गई। इसलिए रिजल्ट आंतरिक मूल्यांकन के आधार पर ही तैयार किया गया है। मंडल ने छात्रों और पैरेंट्स के लिए विभिन्न पोर्टलों के माध्यम से मूल्यांकन का परिणाम जानने की सुविधा उपलब्ध कराई है। सभी एमपी बोर्ड के पोर्टल https://mpbse.mponline.gov.in या www.mpbse.nic.in या www.mpresults.nic.in पर अपने द्वारा दी गई परीक्षा के परिणाम देख सकेंगे।


मोबाइल एप भी बताएगा आपका रिजल्ट

माध्यमिक शिक्षा मंडल की ओर से आधिकरिक वेबसाइट के माध्यम से परीक्षा परिणाम जानने के अलावा मोबाइल एप के माध्यम से भी परिणाम जानने का विकल्प दिया है। सभी छात्र MPBSE MOBILE एप या MP Mobile एप पर 'Know Your Result' का चयन करके अपना रोल नंबर और आवेदन क्रमांक दर्ज कर अपने द्वारा दी गई परीक्षा के परिणाम जान सकेंगे।

 

पढ़ें ये खास खबर- मंगलवार से फिर शुरु होगी ऑनलाइन पढ़ाई, कोर्ट के आदेश के उलट स्कूल संचालक बोले- ट्यूशन फीस लेट देने पर वसूलेंगे पैनाल्टी


परिणाम से असंतुष्ट छात्र भी जान लें

वैसे तो इस सत्र में किसी भी छात्र को फैल नहीं किया जाएगा, लेकिन इसके बावजूद भी कोई छात्र अपने परिणामों से असंतुष्ट होता है, तो उसके लिये भी एमपी बोर्ड द्वारा विशेष परिक्षा 1 से 25 सितंबर के बीच आयोजित की जाएगी। इसमें रिजल्ट से असंतुष्ट छात्र शामिल हो सकेंगे। इसके बाद इसमें प्राप्त अंकों के अनुसार उनकी अंकसूची जारी की जाएगी। यानी जिन छात्रों को सरकार के बोर्ड परीक्षा में अंक देने के मूल्यांकन फॉर्मूले पर भरोसा नहीं है, वो परिणाम जानने के बाद एक बार फिर परीक्षा की तैयारी शुरू कर सकते हैं।


1 अगस्त से 10 अगस्त के बीच करना होगा ऑनलाइन आवेदन

माध्यमिक शिक्षा मंडल सचिव की तरफ से जारी आदेश के अनुसार, मूल्यांकन के तय फॉर्मूले के बाद परीक्षा परिणाम से असंतुष्ट छात्र को परीक्षा में शामिल होने के लिए 1 अगस्त से 10 अगस्त के बीच ऑनलाइन पंजीयन करा सकते हैं। ये पंजीयन छात्रों को अनिवार्य रूप से कराना होगा।परीक्षा के लिए निर्धारित केन्द्र और आयोजन का विस्तृत कार्यक्रम अलग से जारी किये जाएंगे।

मोदी सरकार के मंत्रियों के साथ मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान की मुलाकात - video

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned