9वीं से 12वीं कक्षा के छात्र ध्यान दें : दूरदर्शन पर शुरु हुई ऑनलाइन पढ़ाई, व्हाट्सएप पर डाउट क्लियर कर सकेंगे स्टूडेंट्स

कक्षा 9वीं से लेकर कक्षा 12वीं तक के छात्रों को आज से दूरदर्शन पर पढ़ाने की व्यवस्था की गई है। दूरदर्शन पर कक्षाओं का प्रसारण सोमवार से शुक्रवार तक किया जाएगा।

By: Faiz

Published: 01 Jul 2021, 09:49 PM IST

भोपाल/ कोरोना संकट के चलते देशभर के साथ साथ मध्य प्रदेश बंद किये गए स्कूलों को सरकार द्वारा फिलहाल खोलने का अभी कोई विचार दिखाई नहीं दे रहा है। हालांकि, सरकार द्वारा वैकल्पिक तौर पर ऑनलाइन पढ़ाई की व्यवस्था फिर से शुरु की गई है। कक्षा 9वीं से लेकर कक्षा 12वीं तक के छात्रों को आज से दूरदर्शन पर पढ़ाने की व्यवस्था की गई है। दूरदर्शन पर कक्षाओं का प्रसारण सोमवार से शुक्रवार तक किया जाएगा। जिन विद्यार्थी के घरों पर टीवी की व्यवस्था नहीं है, उनके लिये इलाके के पंचायत भवन में दूरदर्शन पर पढ़ाने की व्यवस्था की गई है।

 

पढ़ें ये खास खबर- मंत्रियों को जिले बांटने पर शिवराज ने दिखाया कमाल का बैलेंस, आज डिनर पर बुलाकर देंगे खास दिशा-निर्देश


अलग अलग होगा कक्षाओं का समय

व्यवस्था के मुताबिक, सप्ताह में पांच दिन दूरदर्शन पर ऑनलाइन पढ़ाई की व्यवस्था की गई है, जिसके लिये अलग अलग समय के हिसाब से अगल अलग कत्क्षाओं की पढ़ाई कराई जाएगी। आज से कक्षा 12वीं के छात्र छात्राओं की क्लास सुबह 8:00 से 9:00 तक रही, कक्षा ग्यारहवीं की क्लास सुबह 9:30 बजे से 10:30 बजे तक रही, 10वीं की क्लास सुबह 11:30 बजे से 12:30 बजे तक और 9वीं कक्षा दोपहर 12:30 से 1:30 बजे तक आयोजित की गई।


इस तरह उपलब्ध कराए जा रहे एपिसोड

मध्य प्रदेश में कक्षा 9वीं कक्षा से 12वीं तक की पढ़ाई 15 जून से शुरू होनी थी। दूरदर्शन की शर्त के चलते प्रसारण को रोकना पड़ा। दूरदर्शन का कहना था कि एपिसोड ब्लू रेड DISK में मिलेंगे, तभी इनका प्रसारण किया जाएगा। पेन ड्राइव में मिले वीडियो से क्लासेस का प्रसारण नहीं होगा। लोक शिक्षण संचालनालय दूरदर्शन को ब्लू रेड DISK में प्रत्येक एपिसोड उपलब्ध करा रहा है। पेन ड्राइव की जगह ब्लू रेड DISK से एपिसोड उपलब्ध कराने में स्कूल शिक्षा विभाग को प्रतिमाह ढाई से तीन लाख का अतिरिक्त खर्च आ रहा है।


व्हाट्सएप ग्रुप पर स्टूडेंट कर सकेंगे टीचर से डिस्कस

स्कूल शिक्षा विभाग ने सभी शिक्षकों को अलग-अलग कक्षा के हिसाब से स्टूडेंट के व्हाट्सएप ग्रुप बनाए जाएंगे। इसके लिये निर्देश दिए जा चुके हैं। स्टूडेंट्स को शिक्षक हर कक्षा के हिसाब से व्हाट्सएप पर पाठ्य सामग्री की व्यवस्था कराएंगे। दूरदर्शन से पढ़ाई के बाद शिक्षक छात्र छात्राओं के डाउट्स क्लियर करेंगे। मुश्किल टॉपिक को स्टूडेंट के लिए हल करने सरल से सरल तरीके से समझाने की कोशिश की जाएगी।

 

सीएम शिवराज ने कही ये बात

मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि, फिलहाल, सूबे में स्कूलों को खोलना उचित नहीं है। इसी के संबंध में निर्णय भी लिया गया है। कोरोना की संभावित तीसरी लहर से बच्चों की सुरक्षा के चलते फिलहाल स्कूल खोलने के फैसले को टाला गया है। सीएम के मुताबिक, स्कूल बंद रहने तक ऑनलाइन पढ़ाई जारी रहेगी। टीवी और दूरदर्शन के माध्यम से छात्र-छात्राओं की पढ़ाई कराई जाएगी। व्हाट्सएप पर स्टूडेंट्स को पाठ्य सामग्री की वर्कशीट भी उपलब्ध कराई जाएगी।

 

प्रदेश में 30 जून से हड़ताल पर गईं सभी नर्स - video

Show More
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned