शरीर को स्वस्थ रखने के लिए करें 'गिलोय' का सेवन, जानिए क्या होते हैं फायदे

- इम्युनिटी बूस्टर है गिलोय, जानिए खाने के फायदे

By: Ashtha Awasthi

Updated: 12 Apr 2021, 04:28 PM IST

भोपाल। पूरे मध्यप्रदेश में कोरोना से हालात खराब हो रहे हैं। अब हालत ऐसे हैं कि अस्पतालों में मरीजों को बेड नहीं मिल रहे हैं। ऐसे में जरूरी है कि हम मास्क, सैनिटाइजर के साथ शारीरिक दूरी का पालन करें। वहीं इस समय आपको आपको अपनी रोग प्रतिरोधक क्षमता को मजबूत रखने की जरूरत है। रोग प्रतिरोधक क्षमता को मजबूत करने में गिलोय (Tinospora Cordifolia) अहम भूमिका निभाता है। जानिए गिलोय के फायदे.....

giloy.jpg

- अगर आपको सर्दी-जुकाम हो गया है तो आप तुलसी के पत्तों के साथ गिलोय के डंठल को पानी के साथ किसी बर्तन में गर्म कर लें। ऐसा करने से सर्दी-खांसी में आराम मिलता है।

- गिलोय एक यूनिवर्सल जड़ी बूटी है जो इम्युनिटी को बढ़ाने में मदद करती है। यह एंटीऑक्सिडेंट का एक पावरहाउस है जो फ्री-रेडिकल्स से लड़ता है।

- गिलोय खराब चीजों को हटाने में मदद करता है, रक्त को शुद्ध करता है, बैक्टीरिया से लड़ता है।

- गिलोय क्रोनिक फिवर से छुटकारा दिलाने में मदद करता है क्योंकि गिलोय प्रकृति में एंटी-पायरेटिक है, इसलिए यह डेंगू, स्वाइन फ़्लू और मलेरिया जैसी कई बीमारियों में जीवन के खतरों को कम कर सकता है।

- मानसिक तनाव और चिंता को कम करने में मदद करता है।

--गिलोय इंफेक्शन से बचाने और किटाणुओं से लड़ने में मदद करती है। यह लगातार खांसी, सर्दी, टॉन्सिल जैसी सांस की समस्याओं को कम करने में मदद करती है।

corona___9.jpg

तेजी से बढ़ रहा संक्रमण

जानकारी के लिए बता दें कि रतलाम में अब तक कोरोना के संक्रमितों की कुल संख्या 6939 हो चुकी है। इनमें से 113 मरीज की मौत हो गई है। वहीं 5936 लोग पूरी तरह स्वस्थ हो चुके हैं। जबकि, 890 केस अब भी एक्टिव हैं। मध्य प्रदेश में बीते 24 घंटों में प्रदेशभर में कोरोना के 5939 नए संक्रमित मिले हैं। इसके बाद प्रदेश में अब कोरोना संक्रमितों की संख्या बढ़कर 338145 हो गई है। वहीं, संक्रमण से मरने वालों की संख्या 4160 पहुंची है।

आर्थिक राजधानी इंदौर में बीते 24 घंटों के दौरान 919 नए पॉजिटिव केस सामने आए हैं। इसके बाद शहर में संक्रमितों की संख्या बढ़कर 78511 हो गई है। जबकि, यहां संक्रमण का शिकार होकर अब तक 999 लोग जान गवां चुके हैं। इंदौर में 69799 लोग स्वस्थ होकर अपने घर जा चुके हैं। अभी कुल 7713 एक्टिव केस हैं।

Ashtha Awasthi
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned